Bihar Assembly Election 2020: बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज होते ही नेताओं का इधर से उधर जाना शुरू हो गया. आए दिन नेता एक पार्टी छोड़कर दूसरी में शामिल हो रहे हैं. इस बीच  एक बड़ी खबर सामने आ रही है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो वरिष्ठ नेता शरद यादव (Sharad Yadav) एक बार फिर नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) में शामिल हो सकते हैं. JDU के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के करीबी ने यह जानकारी दी है. इसके लिए नीतीश कुमार समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने पिछले कुछ दिनों में यादव से फोन पर बात की है और पार्टी में उनकी वापसी की कोशिशें कर रहे हैं. Also Read - पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव की हालत स्थिर, सेहत में लगातार हो रहा सुधार

शरद यादव ने 2017 में उस समय JDU का साथ छोड़ दिया था जब नीतीश कुमार ने राजद (RJD) और कांग्रेस (Congress) वाले गठबंधन से निकलकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ सरकार बनाई थी. इसके बाद मई 2018 में शरद यादव ने खुद की लोकतांत्रिक जनता दल पार्टी (Loktantrik Janata Dal) बनाई. इसके बाद उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में बिहार की मधेपुरा सीट से चुनाव लड़ा और उन्हें हार का सामना करना पड़ा. Also Read - पप्पू यादव ने जारी किया शपथ पत्र, कहा-एक मौका तो हमें दीजिए, ऐसे बदल देंगे बिहार को

शरद यादव पिछले एक महीने से गुड़गांव के एक अस्पताल में भर्ती थे और रविवार को उनको छुट्टी मिली है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने यादव को अस्पताल में रहने के दौरान फोन पर बात भी की. केसी त्यागी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और शरद यादव की पत्नी की बात भी कराई. बाद में मुख्यमंत्री ने शरद यादव से भी बात की. हालांकि जडयू नेताओं ने शरद यादव की पार्टी में वापस आने की खबर की न तो पुष्टि की है और न ही इससे इनकार किया है. Also Read - बिहार विधानसभा चुनाव कब है? तारीख कब आएगी? मुख्य चुनाव आयुक्त ने बतायी ये बात

उधर, लालू यादव को फिर एक विधायक ने झटका दिया है और उसने नीतीश का हाथ थाम लिया है. तेघड़ा से राजद के विधायक विरेंद्र कुमार सिंह मंगलवार को जदयू में शामिल हो गए हैं. पार्टी कार्यालय में जदयू सांसद ललन सिंह ने राजद विधायक को जदयू की सदस्यता दिलाई. बता दें कि राजद के अब तक सात विधायक और पांच एमएलसी जदयू में शामिल हो चुके हैं. जानकारी यह भी मिल रही है कि अभी कई और राजद विधायक जदयू के सम्पर्क में हैं.

बता दें कि इससे पहले राजद विधायक प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव, अशोक कुमार, चंद्रिका राय, फराज फातमी, जयवर्धन यादव जैसे राजद के कद्दावर नेता अब पार्टी का साथ छोड़ चुके हैं तो वहीं पांच एमएलसी- दिलीप राय, राधा चरण सेठ, संजय प्रसाद, कमरे आलम और रणविजय सिंह ने भी पाला बदल जेडीयू का दामन थाम लिया है.