नई दिल्‍ली: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के गर्माई सियासी जंग में चिराग पासवान की पार्टी एलजेपी (LJP) ने भाजपा (BJP) को पहला झटका दिया है. बिहार बीजेपी प्रदेश के एक उपाध्‍यक्ष ने लोक जनशक्ति पार्टी ज्‍वाइन कर ली है. यह तब हुआ है जब चिराग पासवान बिहार में एनडीए से अलग होकर सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के उम्‍मीदवारों के खिलाफ अपने कैंडिडेट्स उतारने का फैसला किया है. Also Read - पश्चिम बंगाल में बोले जेपी नड्डा, बहुत जल्द लागू होगा नागरिकता संशोधन कानून

दिल्‍ली में आज मंगलवार को चिराग पासवान की मौजूदगी में बीजेपी के उपाध्‍यक्ष राजेंद्र सिंह ने एलजेपी में शामिल हो गए. Also Read - बिहार चुनाव में अजब-गजब: भैंसे पर बैठकर नामांकन करने पहुंचे ये नेताजी, बताई ये वजह

बता दें कि बीजेपी राजग की प्रमुख घटक है और उसने पहले ही नीतीश कुमार को राज्य में गठबंधन का नेता घोषित कर दिया है.

बता दें पासवान ने अपने “बिहार पहले, बिहारी पहले” दृष्टिकोण का भी उल्लेख किया और कहा कि उनके पिता को इस बात पर गर्व होगा कि उनका बेटा उस मुद्दे पर कायम है, जिसे उन्होंने उठाया था. 28 अक्टूबर से शुरू होने वाले तीन चरण के चुनाव में अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए लोगों से समर्थन मांगा. दरअसल, लोजपा ने रविवार को “वैचारिक मतभेद” का हवाला देते हुए जद (यू) के खिलाफ अपने उम्मीदवार खड़ा करने का फैसला किया.