पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले पर बक्सर जिले में कुछ ग्रामीणों ने हमला कर दिया. जब सीएम नीतीश कुमार का काफिला गुजर रहा था उसी दौरान कुछ लोगों ने पथराव किया. इस घटना के बाद सीएम नीतीश कुमार को वहां से सुरक्षाकर्मियों ने सुरक्षित निकाल लिया. लेकिन काफिले में शामिल कुछ सुरक्षाकर्मी घायल हो गए हैं.Also Read - CPI नेता कन्‍हैया कुमार और गुजरात के विधायक जिग्‍नेश मेवाणी 28 सितंबर को कांग्रेस में होंगे शामिल

Also Read - Bihar: प्रेमिका से मिलने 17 किमी साइकिल चलाकर प्रेमी आता था, गांववालों ने मंदिर में करा दी शादी

बता दें नीतीश कुमार पर यह हमला विकास समीक्षा यात्रा के दौरान हुआ. खबरों के मुताबिक कुछ ग्रामीण चाहते थे की सीएम नीतीश कुमार दलित बस्ती में आएं और वहां का दौरा करें.  नाराज ग्रामीणों का कहना है की उनके गांव का विकास ठीक से नहीं हुआ है. उसी को दिखाने के लिए उन्होंने नीतीश बुलाने की मांग की. लेकिन इस बात को लेकर उनके और अधिकारीयों के बीच बहस हो गई. जिसके बाद लोगों ने पथराव शुरू कर दिया. फिलहाल सीएम नीतीश कुमार नंदर गाव से निकल गए हैं. Also Read - Love Story in Bihar: साइकिल चलाकर प्रेमिका से मिलने उसके गांव जाता था प्रेमी, लोगों ने देखा तो मंदिर में करा दी शादी

वहीं इस घटना में कुछ सुरक्षाकर्मियों सहित 10 लोग घायल हो गए. डुमरांव थाने के थानाध्यक्ष का सिर फूट गया और लगभग एक दर्जन वाहनों के शीशे टूट गए. ग्रामीणों का आरोप है कि मुख्यमंत्री अपनी यात्रा के क्रम में जिस गांव के जिस टोले में जाते हैं, वहां का तो विकास कार्य कर दिया जाता है, लेकिन अन्य इलाकों को छोड़ दिया जाता है.

एक अधिकारी ने बताया कि ग्रामीणों के बीच कुछ असामाजिक तत्व घुस गए थे, जिन्होंने पथराव किया. मुख्यमंत्री इन दिनों समीक्षा यात्रा के क्रम में राज्य के सभी जिलों का चरणवार दौरा कर रहे हैं. इस दौरान मुख्यमंत्री धरातल पर जाकर विकास कार्यो को देख रहे हैं और अधिकारियों के साथ समीक्षा कर रहे हैं. ( एजेंसी इनपुट )