नई दिल्ली। मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है. इसके बाद वे राष्ट्रपति पद से मुक्त हो जाएंगे. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की विदाई पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से सम्मान के तौर पर शनिवार को रात्रिभोज का आयोजन किया जा रहा है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी इस रात्रिभोज में शामिल होने के लिए निमंत्रण मिला था. Also Read - कोरोना वायरस से मुकाबला के लिये पीएम मोदी ने की आपात राहत कोष की घोषणा, अक्षय कुमार ने दिए 25 करोड़

नीतीश कुमार इस भोज में शामिल होने आज दिल्ली आएंगे. नीतीश कुमार विपक्ष के अकेले ऐसे सीएम होंगे जो पीएम मोदी की ओर से दी जा रही इस रात्रिभोज में शामिल होंगे. इसे मोदी और नीतीश की बढ़ी नजदीकियों के तौर पर भी देखा जा रहा है. रात्रिभोज का आयोजन दिल्ली के हैदराबाद हाउस में किया गया है. नीतीश दिल्ली में चार दिनों तक रहेंगे और वे 25 जुलाई को रामनाथ कोविंद के शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल होंगे. Also Read - राहुल गांधी ने कहा- गरीबों के पैदल पलायन के लिए सरकार जिम्मेदार, नागरिकों की ये हालत करना अपराध

उधर, बिहार में महागठबंधन में चल रहे उठापठक को लेकर नीतीश कुमार कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे. दोनों के बीच महागठबंधन पर आए संकट पर बातचीत होगी. नीतीश कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मिल सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राहुल गांधी ने कुछ दिन पहले नीतीश कुमार से फोन पर बातचीत के दौरान दिल्ली आने पर मिलने का आग्रह किया था.

जेडीयू के एक सूत्र के मुताबिक, बिहार के वर्तमान राजनीतिक हालातों पर चर्चा के लिए शाम करीब चार बजे नीतीश राहुल से मुलाकात कर सकते हैं. नीतीश की राहुल और सोनिया से मुलाकात को बिहार में महागठबंधन में पैदा हुए विवाद को समाप्त करने के संदर्भ में महत्वपूर्ण माना जा रहा है.