Bihar Coronavirus Latest Update News in Hindi: आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (RJD Leader Tejashwi Yadav) ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को निशाने पर लिया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के गृह जिले नालंदा (Nalanda District) में हालात खराब हैं. लोगों को शव ढोना पड़ रहा है. Also Read - CoronaVirus Bihar: ऐसी लापरवाही...एंबुलेंस में कोरोना मरीज ने तोड़ा दम, स्वास्थ्य मंत्री ने दी ये सफाई

आरजेडी नेता ने आज मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि मुख्यमंत्री के गृह जिला नालंदा, इस्लामपुर में दूसरे दिन ठेले पर दूसरा शव ढ़ोया जा रहा है. बिहार के शेष 37 जिलों का हक खाकर उनकी विकास संबंधित राशि केवल नालंदा को ही विकसित बनाने में लगा दी गई. फिर भी सीएम के जिले के यह हालात हैं, बाकी जिलों की अब आप कल्पना कर सकते है. Also Read - Bihar CoronaVirus Latest Update 14 April 2021: बिहार में हुआ कोरोना विस्फोट, पहली बार मिले 4157 नए मरीज, 43 की मौत

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम ने इससे जुड़ा 26 सेकंड का एक वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है. इसमें पीपीई किट पहने दो लोग एक शव को ठेले पर रखकर ले जा रहे हैं. ठेले के आगे एक रिक्शा में लकड़ियों को ले जाया जा रहा है. तेजस्वी यादव ने दो दिन पहले 16 मई को एक और वीडियो ट्वीट किया था.

इस वीडियो में भी दो लोग शव ठेले पर रखकर लेकर जाते हुए दिखाई दिए. तब उन्होंने ट्वीट कर कहा था- ठेले में शव ले जा रहे कर्मचारियों का यह वीडियो 16 वर्षों के CM नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा का है. नालंदा जिले से ही JDU के मुख्यमंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष, एक मंत्री, दो MP और 7 में से 6 MLA हैं. और ये निकम्मे बेशर्म इस विफलता के लिए ‘तेजस्वी यादव’ से इस्तीफा मांग रहे हैं.

इस बीच प्रदेश में भाजपा और आरजेडी (Bihar BJP vs RJD) के बीच टीकों को लेकर जुबानी जंग भी तेज होती जा रही है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी (Sushil Kumar Modi) ने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय जनता दल (RJD) और कांग्रेस पार्टी (Congress Party in Bihar) के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण कार्यक्रम धीरे-धीरे आगे बढ़ रहा है. मोदी ने कहा, ‘आरजेडी और कांग्रेस पार्टी बिहार में ग्रामीण क्षेत्रों में धीमी गति से टीकाकरण के लिए जिम्मेदार हैं.’

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव जो सरकार पर सवाल उठा रहे हैं, उन्हें स्पष्ट करना चाहिए कि आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (RJD Chief Lalu Yadav) और पूर्व सीएम राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने अब तक टीका क्यों नहीं लगवाया है? कितने आरजेडी नेताओं ने बिहार में टीके ले लिए हैं? मोदी ने कहा कि आरजेडी ग्रामीण इलाकों में गरीब लोगों को टीके से बचने के लिए भी मजबूर कर रही है. पार्टी का यह कृत्य उनकी जान को खतरे में डाल रहा है.

इधर सुशील मोदी की बात का जवाब देते हुए आरजेडी के एक वरिष्ठ नेता श्याम रजक ने कहा कि देश में हर किसी को टीका लगाने के लिए ना तो केंद्र और ना ही बिहार सरकार के पास पर्याप्त टीके हैं. इसलिए इन दोनों वरिष्ठ नेताओं (लालू और राबड़ी) ने टीका नहीं लिया है. इसके अलावा एनडीए सरकार ने जो जांच की सुविधा मुहैया कराई है, वह अनुचित तरीके से चल रही है. (एजेंसी इनपुट सहित)