Bihar Covid-19 News Latest Updates: कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहे बिहार को बड़ा झटका लगा है. शुक्रवार (23 अप्रैल, 2021) को राज्य स्वास्थ्य विभाग में अतिरिक्त सचिव रवि शंकर चौधरी का निधन हो गया. न्यूज एजेंसी एएनआई ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण की वजह से उनकी मौत हुई है.Also Read - सूरतगढ़ में है तीन सौ साल पुराना जाल वाला बाबा रामदेव जी का मंदिर, तस्वीरों में देखिए भव्यता

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आईएएस अधिकारी और अरवल के पूर्व डीएम चौधरी कुछ दिन पहले संक्रमित हो गए थे. राजधानी पटना स्थित एम्स में उनका इलाज चल रहा था. हालांकि उनकी स्थिति लगातार खराब होती जा रही थी और आखिर में आज निधन हो गया. Also Read - पंजाब में सियासत गरमाई: कैप्टन अमरिंदर जल्द बताएंगे सीएम मान को भ्रष्टाचार में लिप्त पूर्व मंत्रियों के नाम

अतिरिक्त सचिव (स्वास्थ्य) के निधन पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने गहरा दुख जताया है. उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते चौधरी के निधन का दुखद समाचार मिला है. उनके निधन से स्वास्थ्य विभाग को बड़ी क्षति हुई है. भगवान उनकी आत्म को शांति दे और परिजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति दे. Also Read - मिसाइल पोत ‘आईएनएस गोमती’ की नौसेना से विदाई, 34 साल बाद सेवामुक्त किया गया

मालूम हो कि प्रदेश की राजधानी पटना स्थित एम्स सहित छह प्रमुख अस्पतालों के 750 से अधिक डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हो चुके हैं. पटना एम्स के अधीक्षक डाक्टर चंद्रमणि सिंह ने बताया कि कोरोना की इस दूसरी लहर में उनके अस्पताल में अबतक 384 चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं. वर्तमान में 220 चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारी संक्रमित हैं.

पटना मेडिकल कालेज अस्पताल (पीएमसीएच) के 125 चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारी कोरोना की इस दूसरी लहर में अबतक संक्रमित हो चुके हैं. पीएमसीएच के अधीक्षक इंदू शेखर ठाकुर ने बताया कि उनके अस्पताल के संक्रमित चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारियों के लिए अलग से बेड की व्यवस्था की गई है. पटना शहर स्थित कोविड निर्दिष्ट नालंदा मेडिकल कालेज अस्पताल (एनएमसीएच) के करीब 100 चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं. (भाषा इनपुट)