Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे मंगलवार को आने के पहले, यह बात सामने आई है कि पिछले एक महीने में लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक के माध्यम से मतदाताओं तक पहुंचने में कांग्रेस (Congress) पार्टी ने दूसरों से ज्यादा खर्च किया है. फेसबुक एड लाइब्रेरी के आंकड़ों के अनुसार, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (आईएनसी) बिहार पेज ने 8 अक्टूबर से लेकर 6 नवंबर के दौरान फेसबुक पर 1, 268 विज्ञापनों पर 61.5 लाख रुपये खर्च किए हैं. Also Read - 'महाराष्ट्र में अगले 2-3 माह में सरकार बना लेगी बीजेपी, तैयारी हो गई है'

इसकी तुलना में, भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बिहार पेज के फेसबुक विज्ञापनों पर खर्च उसी अवधि के दौरान कांग्रेस के आधे से भी कम था. भाजपा बिहार पेज ने 26.9 लाख रुपये खर्च किए गए, जबकि जनता दल (JDU) ने इस अवधि के दौरान 24.1 लाख रुपये खर्च किए. इस प्रकार पिछले एक महीने में फेसबुक पर विज्ञापन खर्च के संदर्भ में, सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) -भारतीय जनता पार्टी (जदयू-भाजपा) गठबंधन का संयुक्त खर्च अकेले बिहार कांग्रेस पेज से मेल नहीं खाता. Also Read - कलह और अपने नेताओं को कांग्रेस की सलाह- सार्वजनिक रूप से बयान न दें क्योंकि...

लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) का फेसबुक पेज भी पिछले 30 दिनों में सबसे ज्यादा खर्च करने वालों में से एक थे. फेसबुक के मुताबिक, इस पेज ने पिछले 30 दिनों में 14.5 लाख रुपये खर्च किए. डेटा बताता है कि बिहार कांग्रेस पेज ने 1 से 7 नवंबर के बीच फेसबुक विज्ञापनों पर खर्च में तेजी लाई. Also Read - लव जिहाद पर बोलीं TMC सांसद नुसरत जहां- प्यार लोगों का निजी मामला, इसपर हुक्म नहीं चलाया जा सकता

इस अवधि के दौरान पेज पर भाजपा की बिहार इकाई द्वारा खर्च किए गए केवल 4.8 लाख रुपये की तुलना में कांग्रेस ने 27.8 लाख रुपये खर्च किए. एक राजनीतिक दल या दूसरे या उनके नेताओं के समर्थन में विभिन्न फेसबुक पेज भी बिहार विधानसभा चुनाव तक सक्रिय हो गए. बिहार में 243 विधानसभा सीटें हैं. शनिवार को कुछ एग्जिट पोल ने महागठबंधन के लिए प्रचंड जीत की भविष्यवाणी की, जिसमें राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस और वामपंथी पार्टियां शामिल हैं.