Bihar Election 2020: दरभंगा के बहेड़ी थाना क्षेत्र के हायाघाट विधानसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार रविन्द्रनाथ सिंह उर्फ चिंटू सिंह  की अज्ञात अपराधियों ने गोली मार दी और मौके से फरार हो गये. उन्हें घायल अवस्था मे इलाज के लिये दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, DMCH में भर्ती करवाया गया है, जहां उनकी स्थिति गम्भीर बनी हुई है. वे हायाघाट मे राजद और भाजपा के प्रत्याशियों को कड़ी टक्कर दे रहे थे, अभी उनकी हाल अस्पताल में गंभीर बनी हुई है. Also Read - बिहार में मुस्लिम विधायकों को लेकर उथल-पुथल तेज, CM नीतीश के इस कदम से ओवैसी और कांग्रेस टेंशन में

बताया जा रहा है रविंद्रनाथ कि गुरुवार को चुनाव प्रचार खत्म कर देर रात अपने गांव दुगौली लौट रहे थे. इसी दौरान उनकी कार को कोठरी के पास कुछ लोगों के द्वारा रोक ली गई. जैसे ही वह गाड़ी से उतरे तभी ताबड़तोड़ गोली चला दी गई. रविन्द्र नाथ सिंह को दो गोली लगी है. गोली मारने के बाद अपराधी घटनास्थल से फरार हो गये, जिसके बाद घायल अवस्था मे चिंटू सिंह को DMCH में भर्ती करवाया गया है, जहां वह जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं. Also Read - Rajya Sabha Election 2020: पासवान की राज्यसभा सीट से होगी भाजपा और जदयू के बीच भरोसे की परीक्षा

बता दें कि रविंद्रनाथ के निर्दलीय खड़ा होने से हायाघाट में मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है. गौरतलब है कि हायाघाट विधानसभा से राजद उम्मीदवार भोला यादव और भाजपा से रामचन्द्र साह को वह निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मजबूत टक्कर दे रहे हैं. रविन्द्रनाथ सिंह उर्फ चिंटू सिंह सालों से समाजसेवी के रूप में भ्र्ष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ते रहने के कारण क्षेत्र में काफी लोकप्रिय रहे हैं. इसके साथ ही समस्तीपुर में संसद प्रतिनिधि भी रह चुके हैं. Also Read - 'महाराष्ट्र में अगले 2-3 माह में सरकार बना लेगी बीजेपी, तैयारी हो गई है'