Bihar Assembly Election 2020: बिहार में दूसरे चरण के चुनाव से पहले रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने लालू यादव (Lalu Yadav) के गढ़ छपरा में रैली की. प्रधानमंत्री मोदी बिहार में आज चार रैलियों को संबोधित करेंगे. छपरा के बाद समस्तीपुर, पूर्वी चंपारण और पश्चिमी चंपारण में पीएम मोदी की रैली होनी है. बिहार में दूसरे चरण के चुनाव प्रचार का भी आज अंतिम दिन है. आज शाम प्रचार अभियान खत्म हो जाएगा.Also Read - Haryana: जींद में किसानों नेताओं की घोषणा, अब BJP-JJP नेताओं का बहिष्कार नहीं करेंगे

Also Read - PM Awas Yojana: तीन साल के लिए बढ़ाई गई पीएम आवास योजना की अवधि, यहां जानें किस तरह से करें आवेदन?

इस बीच छपरा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पहले चरण के मतदान से साफ नजर आ रहा है कि नीतीश बाबू के नेतृत्व में NDA की सरकार दोबारा बन रही है. उन्होंने कहा कि पहले चरण के मतदान में आपने एनडीए को जो भारी समर्थन के संकेत दिए हैं और जिन्होंने भी मतदान किया है, उनका मैं अभिनंदन करता हूं. Also Read - हेलीकॉप्‍टर क्रैश में जिवित बचे ग्रुप कैप्टन Varun Singh को बेहतर इलाज के लिए बेंगलुरु स्थानांतरित किया जा रहा

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के लोगों को भ्रम में डालने की कुछ लोगों की कोशिशें आप लोगों ने पूरी तरह नष्ट कर दी हैं. भाजपा और एनडीए के लिए आपका ये प्रेम कुछ लोगों को अच्छा नहीं लग रहा है, उन्हें रात को नींद नहीं आ रही है. कभी कभी तो अपने ही कार्यकर्ताओं को मार पकड़ के फेंकते हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा के लिए, NDA के लिए आपका ये प्रेम कुछ लोगों को अच्छा नहीं लग रहा है, रात को उन्हें नींद नहीं आ रही है. उनकी हताशा-निराशा, बौखलाहट, गुस्सा, अब बिहार की जनता बराबर देख रही है. चेहरे से हंसी गायब हो गई है.

उन्होंने कहा कि जिसकी नजर हमेशा गरीब के पैसों पर हो, उसे कभी गरीब का दुख, उनकी तकलीफ दिखाई नहीं देगी. वहीं भाजपा के नेतृत्व में, एनडीए का हमारा गठबंधन देश के गरीब के जीवन से, बिहार के गरीब के जीवन से मुश्किलें कम कर रहा है. दशकों तक गरीबों ने जिन सुविधाओं का इंतजार किया, जिनके लिए उन्हें न जाने कहां कहां चक्कर काटने पड़ते थे, वो अब उन्हें आसानी से मिल रहा है, हक से मिल रहा है.

तेजस्वी, तेजप्रताप और राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज बिहार के सामने, डबल इंजन की सरकार है, तो दूसरी तरफ डबल-डबल युवराज भी हैं. उनमे से एक तो जंगलराज के युवराज भी हैं. डबल इंजन वाली एनडीए सरकार, बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, तो ये डबल-डबल युवराज अपने-अपने सिंहासन को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं.

उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार चाहे केंद्र में हो या फिर बिहार में, जितनी बड़ी चुनौती रही है उतने ही बड़े प्रयास हुए हैं. बात चाहे जीवन बचाने की हो, आजीविका बचाने की हो. एनडीए सरकार हर पल एक एक नागरिक के साथ खड़ी रही है. पीएम ने कहा कि दुनिया में आज कोई ऐसा नहीं है, जिसे कोरोना ने प्रभावित न किया हो, जिसका इस महामारी ने नुकसान न किया हो. एनडीए की सरकार ने कोरोना की शुरुआत से ही प्रयास किया है कि वो इस संकटकाल में देश के गरीब, बिहार के गरीब के साथ खड़ी रहे.

उन्होंने कहा कि जब छठी मईया की पूजा के दौरान, गंगाजी के किनारे हजारों-हजार महिलाओं की भीड़ जुटती है, तो उनकी सबसे बड़ी जरूरत होती है, साफ गंगा जी का पानी, स्वच्छता. गंगा जी के पानी को स्वच्छ करने के लिए बीते वर्षों में जो प्रयास हुए हैं, उसका असर आप भी देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि आज बिहार के गांव सड़क, बिजली, पानी जैसी मूल सुविधाओं से कनेक्ट हो रहे हैं. अगर नीयत होती, इच्छाशक्ति होती, तो ये काम डेढ़ दशक पहले भी हो सकते थे.

पीएम ने कहा कि आज के नौजवान को खुद से पूछना चाहिए कि बड़ी-बड़ी परियोजनाएं जो बिहार के लिए इतनी जरूरी थीं, वो बरसों तक क्यों अटकीं रहीं? बिहार के पास सामर्थ्य तब भी भरपूर था. सरकारों के पास पैसा तब भी पर्याप्त था. फर्क सिर्फ इतना था कि तब बिहार में जंगलराज था.