Bihar Election 2020 Result Date बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) के तीसरे और अंतिम चरण में राज्य के 15 जिलों के 78 विधानसभा सीटों के लिए शनिवार को मतदान संपन्न हुआ. माना जा रहा है कि इस चरण में जिस गठबंधन को बढ़त मिलेगी, राज्य में अगली सरकार बनाने में उसकी राह आसान होगी. यही कारण है कि सभी राजनीतिक दल इस चरण की अधिक से अधिक सीटें हासिल करने के लिए जी-तोड़ मेहनत की. Also Read - बिहार: बीजेपी ने सुशील कुमार मोदी को बनाया राज्यसभा उम्मीदवार, राम विलास पासवान के निधन से खाली हुई थी सीट

कहां कितने वोट पड़े?

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण का मतदान शनिवार को संपन्न हो गया. इस चरण में 15 जिलों के 78 विधानसभा क्षेत्रों के मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयेाग किया. इसके साथ ही राज्य के सभी 243 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान संपन्न हो गया. तीसरे चरण में करीब 58 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया. राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, तीसरे चरण में करीब 58 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया है. हालांकि इस आंकड़े में मामूली परिवर्तन के भी आसार हैं. Also Read - रांची से बैठे-बैठे लालू कर रहे डीलिंग-एब्सेंट हो जाओ, तुमको आगे बढ़ा देंगे, Audio हुआ Viral

इस चरण में राज्य के 15 जिलों की 78 विधानसभा क्षेत्रों में वोट डाले गए. राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, इस चरण में 2.35 करोड़ से अधिक मतदाताओं के मताधिकार के प्रयोग करने के लिए 33,782 मतदान केंद्र बनाए गए थे. इस चरण में 1,204 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला मतदाताओं ने ईवीएम में कैद कर दिया है. इनमें से 1094 पुरूष तथा 110 महिलाएं शामिल हैं. सबसे अधिक 31 प्रत्याशी गायघाट से हैं जबकि सबसे कम नौ प्रत्याशी ढाका, त्रिवेणीगंज, जोकीहाट तथा बहादुरगंज से हैं. Also Read - 'जेल से NDA के विधायकों को फोन पर मंत्री पद का लालच दे रहे हैं लालू यादव', सुशील मोदी ने शेयर किया मोबाइल नंबर

आयोग के मुताबिक इस चरण में 57.91 प्रतिश्त मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया. इस बीच कहीं से कोई बड़ी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. सबसे अधिक किशनगंज में 62.55 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया, जबकि सबसे कम वैशाली में 52.68 फीसदी वोट डाले गए हैं.

इसके अलावा पश्चिमी चंपाराण में 56.02 प्रतिशत, फीसदी, पूर्वी चंपारण में 57.16, सीतामढ़ी में 55.84, मधुबनी में 56.36, सुपौल में 61.19, अररिया में 54.58, पूर्णिया में 59.25, कटिहार में 61.57, मधेपुरा में 59.00 प्रतिशत, सहरसा में 60.20 फीसदी, दरभंगा 54.91, मुजफ्फरपुर में 57.57 तथा समस्तीपुर में 58.15 प्रतिशत वोट डाले गए हैं.

बिहार चुनाव में सफल मतदान के बाद अब सभी की नजरें 10 नवंबर को आने वाले बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के नतीजों (Bihar Election 2020 Result) पर है. बिहार चुनाव के नतीजे 10 नवंबर को सुबह से ही आने शुरू हो जाएंगे. इस चुनावी दंगल में राजग से सीधी टक्कर विपक्षी दल के महागठबंधन से मानी जा रही है.

भाजपा के नेतृत्व वाले राजग जदयू, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा, विकासशील इंसान पार्टी शामिल हैं, जबकि केंद्र में राजग की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) यहां अलग होकर चुनाव मैदान में है. महागठबंधन में राजद, कांग्रेस और वामपंथी दल सीपीआई, सीपीएम शामिल हैं.

तीसरे चरण में कहां किसकी टक्कर?

तीसरे चरण में सत्ताधरी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की ओर से जनता दल (युनाइटेड) ने 37, भाजपा ने 35, विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) ने पांच और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा ने एक प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतारे हैं वहीं विरोधी दलों के महागठबंधन में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने सबसे अधिक 46, कांग्रेस ने 25, तथा सीपीआई एम एल ने 5, सीपीआई ने 2 प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारे हैं.

इसके अलावा लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने भी 42 प्रत्याशी उतारे हैं. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) ने एआईएमआईएम और कई अन्य दलों से गठबंधन कर सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. पप्पू यादव की पार्टी जन अधिकार पार्टी का गठबंधन भी इस चरण में चुनावी मैदान में ताल ठोंक रहा है.

बता दें कि बिहार में विधानसभा की 243 सीटों के लिए प्रथम चरण में 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर तथा 3 नवंबर को 94 सीटों पर मतदान हो चुका है. वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी.

(इनपुट आईएएनएस)