Bihar Assembly Election 2020: जनता दल (यूनाइटेड) Janata Dal (United) नेतृत्‍व ने आज मंगलवार को पार्टी विरोधी गतिविधियों में अपनी 15 नेताओं को बाहर का रास्‍ता दिखाया है. इसमें एक एमएलए, पूर्व एमएलए और पूर्व मंत्री शामिल हैं. जेडीयू ने इसकी लिस्‍ट जारी की है. Also Read - केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा- कमलनाथ ने दलितों का अपमान किया, पार्टी से निकाले कांग्रेस

भाजपा के बाद जद (यू) ने 15 बागी नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जद(यू)  ने मंगलवार को पार्टी विरोधी कार्य करने वाले 15 नेताओं को जद(यू) की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित करते हुए 6 साल के लिए दल से निष्कासित कर दिया. इससे पहले पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए भाजपा ने कई नेताओं को निष्कासित किया था. Also Read - भाजपा विधायक ने दिए बगावत के संकेत, बोले- येदियुरप्पा लंबे समय तक मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे

  Also Read - बिहार चुनाव: LJP ने 41 प्रत्याशियों की तीसरी सूची जारी की, जानें किसे कहां से मिला टिकट

जेडीयू के प्रदेश अध्‍यक्ष व सांसद वशिष्‍ठ नारायण सिंह ने जारी प्रेस विज्ञप्‍ति में कहा कि पार्टी विरोधी कार्य करने हेतु निम्‍न लिखित नेताओं को छह वर्ष के लिए दल से निष्‍कासित किए जाते हैं.

इस लिस्‍ट में वर्तमान विधायक ददन सिंह यादव, पूर्व मंत्री रामेश्‍वर पासवान, पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा, पूर्व विधायक रणविजय सिंह, पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह समेत कई अन्‍य नेता हैं, जो पार्टी के विभिन्‍न संगठनों से जुड़े हुए हैं.

जनता दल (यू) के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने पार्टी विरोधी कार्य करने वाले 15 नेताओं को निष्कासित कर दिया है. जद(यू) ने पार्टी के जिन नेताओं को निलंबित और निष्कासित किया है, उनसे ये नेता शामिल हैं-

1 – वर्तमान विधायक ददन सिंह यादव- डुमरंव विधानसभा क्षेत्र
2 – पूर्व मंत्री रामेश्वर पासवान ( सिकन्दरा)
3 – पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा ( जगदीशपुर)
4 – पूर्व विधायक रणविजय सिंह
5 – सुमित कुमार सिंह (चकाई)
6- पार्टी महिला प्रकोष्ठ की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कंचन कुमारी गुप्ता (मुंगेर),
7- अतिपिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व सदस्य प्रमोद सिंह चन्द्रवंशी (ओबरा)
8- युवा जद(यू) के पूर्व कोषाध्यक्ष अरूण कुमार (बेलागंज)
9- औरंगाबाद जिला जद(यू) के पूर्व संयोजक तजम्मुल खां (रफीगंज),
10- जेडीयू रोहतास पूर्व जिलाध्यक्ष अमरेश चौधरी (निर्दलीय प्रत्याशी, नोखा),
11- जेडीयू पूर्व जमुई जिलाध्यक्ष शिवशंकर चौधरी (सिकन्दरा),
12- 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में पार्टी के पूर्व प्रत्याशी सिंधु पासवान (सिकन्दरा),
13 – जेडीयू कार्यकर्ता करतार सिंह यादव (डुमरॉव)
14 – बरबीघा विधानसभा क्षेत्र के पार्टी प्रभारी राकेश रंजन
15- पार्टी कार्यकर्ता मुंगेरी पासवान (चेनारी)

बता दें कि राजग उम्मीदवारों के खिलाफ बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने पर जद(यू) की सहयोगी पार्टी भाजपा ने सोमवार को अपने 9 बागी नेताओं को पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था.

Bihar Assembly Election 2020: जनता दल (यूनाइटेड) ने आज मंगलवार यह लिस्‍ट जारी की है, जबकि बीजेपी इससे पहले अपने कुछ नेताओं को पार्टी से निकालने की सूची जारी की थी, जबकि इसके कुछ नेता पहले ही विरोधी दलों से टिकट पा चुके थे.

बीजेपी राज्य में जेडी (यू) के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है. गठबंधन में विकासशील इंसान पार्टी (VIP) और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) को भी शामिल किया गया है. बीजेपी 243 सदस्यीय विधानसभा में 110 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. पार्टी ने अपने कोटे की 11 सीटें वीआईपी को दी हैं. जद (यू) 115 सीटों पर किस्मत आजमाएगी और उसने अपने कोटे की सात सीटें ‘हम’ के लिए छोड़ी हैं.

बिहार में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव होने हैं, जिसमें पहले चरण के लिए मतदान 28 अक्तूबर को होगा, जबकि दूसरे चरण के लिए 3 नवंबर और तीसरे चरण के लिए 7 नवंबर को मतदान होगा. मतगणना 10 नवंबर को होगी.