BIhar Election News Live Update: बिहार विधानसभा चुनाव की सरगर्मी अब काफी तेज हो गई है. जदयू ने सोमवार को अपनी वर्चुअल रैली की जिसको जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संबोधित किया. इस रैली के साथ ही सोशल मीडिया पर लगातार हैशटैग के साथ #BiharRejectsnitishkumar ट्रेंड करता रहा. इसके साथ ही जदयू की इस वर्चुअल रैली के पेज पर डिस्लाइक्स की बाढ़-सी आ गई थी. Also Read - Bihar Assembly Elections 2020: बिहार में कैसे होंगी चुनावी रैलियां और कितनी जुटेगी भीड़? आयोग ने दिया हर सवाल का जवाब

तेजस्वी  ने नीतीश को दी है खुली चुनौती Also Read - बिहार चुनाव की तारीख का हुआ ऐलान, लालू ने दिया नया नारा "उठो बिहारी, करो तैयारी"

मंगलवार को बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सह राजद नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर नीतीश कुमार को खुली चुनौती दी है और दावा किया है कि नीतीश कुमार ने 1995 में एकीकृत बिहार में अकेले विधानसभा चुनाव लड़ा था तो मात्र 7 सीट आयी थी. 2014 में लेफ़्ट के साथ मिलकर लड़े थे तो मात्र 2 सीट आयी थी. वो जीवन में कभी भी अकेले लड़ेंगे तो प्रतापी चेहरे को दहाई के अंकों में भी सीट प्राप्त नहीं होगी, यह मेरी चुनौती और दावा है. Also Read - Bihar Election Campaign Guidelines: कोरोना काल में चुनाव प्रचार में लगी बंदिशें, इन नियमों का करना होगा पालन

15 सितंबर को चिराग ले सकते हैं बड़ा फैसला

LJP सुप्रीमो चिराग पासवान भी नीतीश कुमार  से नाराज चल रहे हैं और उन्होंने तो नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने से भी इनकार कर दिया है. कहा जा रहा है कि जल्द ही वो बड़ा फैसला लेने वाले हैं. इसपर सबकी नजरें टिकी हुई हैं. राज्य में गठबंधन को लेकर आगे निर्णय लेने के लिए  15 सितंबर को पार्टी सांसदों से रायशुमारी के बाद चिराग अंतिम फैसला लेंगे.

तेजप्रताप यादव महुआ नहीं, हसपुर से लड़ेंगे चुनाव

बिहार में विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच लालू यादव के बड़े बेटे और महुआ क्षेत्र से विधायक तेजप्रताप यादव अपनी विधानसभा सीट बदलने की तैयारी में हैं. इसे लेकर  7 सितंबर को उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया. जनसभा संबोधित करने से पहले उन्होंने ट्वीट कर इस बात का संकेत दे दिया. उन्होंने ट्वीट में कहा कि ‘अब घर-घर होगा तेज संवाद, मैं हसनपुर विधानसभा क्षेत्र आ रहा हूं.’