Bihar Assembly Election 2020: बिहार में विधानसभा चुनाव प्रचार जोर शोर से चल रहा है. आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. 3 नवंबर को होने वाले दूसरे चरण के चुनाव (2nd Phase Election) लिए प्रचार अभियान थम चुका है. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने बिहार में चार रैलियां की. अपनी रैलियों के दौरान प्रधानमंत्री ने बिहार में एक बार फिर ‘नीतीश बाबू’ की सरकार आने की उम्मीद जताई तो वहीं, दूसरी ओर विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने बिहार में NDA की सरकार को ‘डबल इंजन’ सरकार बताया तो वहीं, दूसरी तरफ महागठबंधन पर निशाना साधते हुए डबल-डबल युवराज बताया. प्रधानमंत्री के इस बयान पर राजद प्रमुख लालू यादव (Lalu Yadav) ने हमला बोला इसे डबल इंजन नहीं बल्कि ट्रबल इंजन बताया.Also Read - Winter Session of Parliament Live Updates: चौथे दिन भी हंगामा और नारेबाजी, विपक्षी नेताओं ने राज्सभा से वॉकआउट किया

लालू यादव ने ट्वीट किया, ‘यह डबल इंजन नहीं ट्रबल इंजन है. लॉकडाउन में फंसे मजदूरों को वापस लाने के वक्त डबल इंजन कहां था? Also Read - Mamata Banerjee बोलीं अब कोई UPA नहीं बचा, कांग्रेस ने कहा- सिर्फ अपने बारे में सोचने वाले BJP को ही मजबूत करेंगे

बता दें कि पीएम मोदी ने कहा था, ‘आज बिहार के सामने, डबल इंजन की सरकार है, तो दूसरी तरफ डबल-डबल युवराज भी हैं. उनमें से एक तो जंगलराज के युवराज भी हैं.’ उन्होंने कहा था, ‘डबल इंजन वाली NDA सरकार, बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, तो ये डबल-डबल युवराज अपने-अपने सिंहासन को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं.’ उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का हवाला देते हुए मोदी ने कहा कि तीन-चार साल पहले वहां भी ‘डबल-डबल युवराज’ बस के ऊपर चढ़कर लोगों के सामने हाथ हिला रहे थे और उत्तर प्रदेश की जनता ने वहां उन्हें घर लौटा दिया था. Also Read - कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने औषधीय खेती को बढ़ावा देने पर दिया जोर, किसानों की आमदनी बढ़ाने के भी बताए उपाय

प्रधानमंत्री मोदी ने ‘डबल-डबल युवराज’ कहकर उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान साथ रहे राहुल गांधी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव की ओर इशारा किया था. वहीं, बिहार में ‘डबल-डबल युवराज’ के माध्यम से उन्होंने तेजस्वी और राहुल पर निशाना साधा.

रैली के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा था कि आज देश में एक तरफ लोकतंत्र के लिए पूर्ण रूप से समर्पित राजग का गठबंधन है, दूसरी तरफ अपने निहित स्वार्थ को समर्पित पारिवारिक गठबंधन हैं. उन्होंने विपक्षी महागठबंधन में शामिल कांग्रेस और राजद पर निशाना साधते हुए यह कहा. उन्होंने बिहार को बीमार होने से बचाने के लिये लोगों से राज्य में नीतीश कुमार नीत राजग को जनादेश देने की लोगों से अपील की.

इसके अलावा पीएम मोदी ने रैली में आए लोगों से पूछा, ‘क्या नीतीश कुमार जी का कोई परिवार वाला सरकार में है किसी पद पर है? क्या मोदी का कोई परिवार वाला संसद में या कहीं है? क्या नीतीश कुमार का कोई भाई राज्यसभा पहुंचा? क्या नीतीश कुमार की कोई बेटी, बेटा कहीं पहुंचा है क्या?’ प्रधानमंत्री ने विपक्षी महागठबंधन पर परिवारवाद को लेकर तीखा प्रहार किया. उन्होंने लोगों से पूछा कि सिर्फ और सिर्फ अपने-अपने परिवार के लिए काम कर रही इन पारिवारिक पार्टियों ने आपको क्या दिया? बड़े-बड़े बंगले बने, तो किसके बने? महल बने, तो किसके बने?

उन्होंने कहा, ‘इन पारिवारिक पार्टियों के घरों में बड़ी-बड़ी करोड़ों की गाड़ियां आईं, गाड़ियों का काफिला बना, लेकिन आपके बच्चों की चिंता क्या ये करेंगे ?’ राजद, कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इन्हें सिर्फ अपने और अपने परिवार की चिंता है, यही सच्चाई है और यही इनका इतिहास है. उन्होंने लोगों से ‘जंगलराज के युवराज’ से सवधान रहने की अपील की और आरोप लगाया कि जंगलराज वालों को सिर्फ अपनी बेनामी सम्पत्ति छिपाने की चिंता है.