पटना: बिहार में बाढ़ से अबतक 27 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 16 जिलों की 81,79,257 आबादी इससे प्रभावित है. आपदा प्रबंधन विभाग से बृहस्पतिवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक बाढ से दरभंगा जिले में सबसे अधिक ग्यारह लोगों, मुजफ्फरपुर में छह, पश्चिम चंपारण में चार तथा खगडिया, सारण एवं सिवान में दो—दो व्यक्ति और 86 मवेशी की अबतक मौत हो चुकी है . Also Read - CM नीतीश से मिले बिहार के Ex DGP गुप्तेश्वर पांडेय, कयासबाजी हुई तेज, तो कह दी ये बात

बिहार के 16 जिलों में 1317 पंचायतों की 81,79,257 आबादी बाढ से प्रभावित है. बाढ के कारण विस्थापित लोगों को भोजन कराने के लिए 443 सामूदायिक रसोई की व्यवस्था की गयी है जहां 325610 लोगों को भोजन कराया गया है . Also Read - बिहार में चुनाव के अभी से दिख रहे साइड इफेक्ट, कहीं उमड़ रहा प्यार तो कहीं पड़ी दरार

दरभंगा जिला में सबसे अधिक 15 प्रखंडों के 227 पंचायतों की 20,61,700 आबादी बाढ से प्रभावित हुई है. बिहार के बाढ प्रभावित इन जिलों में बचाव और राहत कार्य चलाए जाने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 26 टीमों की तैनाती की गयी है . बिहार के इन जिलों में बाढ का कारण विभिन्न नदियों के जलस्तर में वृद्धि है . Also Read - Bihar Assembly Election 2020: आज दोपहर 12.30 बजे होगा बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान

जल संसाधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बागमती नदी सीतामढी, मुजफ्फरपुर एवं दरभंगा में, बूढी गंडक नदी समस्तीपुर एवं खगडिया में, गंगा नदी पटना एवं भागलपुर में, खिरोई दरभंगा में और घाघरा नदी सिवान में बृहस्पतिवार को खतरे के निशान से उपर बह रही है . जल संसाधन विभाग के अनुसार विभाग के अंतर्गत सभी बाढ़ से बचाव वाले बांध सुरक्षित हैं .

(इनपुट: भाषा)