Bihar Flood: बिहार में नदियों का जलस्तर बढ़ने के कारण बाढ़ जैसे हालात बन चुके हैं. गंगा नदीं अपने उफान पर है, वहीं आसपास की नदियां सोन और पुनपुन में भी जलस्तर लगातार बढ़ रहा है. गुरुवार के दिन गंगा नदीं इलाहाबाद से फरक्क तक लाल निशान के काफी उपर बह रही है. मुंगेर जिले को छोड़कर बाकी सभी जगहों पर यह नदीं लाल निशान से एक मीटर उपर बह रही है.Also Read - यूपी: गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान नदी में बहे पांच लोग, एक शव बरामद

बक्सर से लेकर पटना तक हालात ऐसे हैं कि दियारा क्षेत्र के घरों में पानी घुसने लगा है. वहीं बक्सर कोचस स्टेट हाईवे पर भी लगभग 1 फुट तक पानी भर गया है. वहीं भागलपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग 80 पर कई जगहों पर बाढ़ का पानी बहने लगा है. इससे भागलपुर जिला मुख्यालय का दूसरे जिलों से संपर्क कटने की स्थित बन गई है. Also Read - Train Status/IRCTC Update: यहां बाढ़ की स्थिति में सुधार, दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन शुरू

वहीं कोसी नदीं की बाद करें तो कोसी का डिस्चार्ज भी बढ़ा है. इससे बराह क्षेत्र में 107 हजार और बराज पर एक लाख 51 हजार घनसेक पानी मिल रहा है. वहीं गंडक नदीं का डिस्चार्ज एक लाख 6 हजार घनसेक है. बता दें कि बागमती नदीं मुजफ्फरपुर में 74, बूढ़ी गंडक खगड़िया में 171 और कमला झंझारपुर में 80 सेमी उपर बह रही है. Also Read - काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान: बाढ़ के पानी में डूबने से 24 दुर्लभ जानवरों की मौत, 17 हॉग हिरण भी मारे गए