पटना: बिहार इस समय एक तरफ तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण तो दूसरी तरफ बाढ़ की मार झेल रहा है. बिहार में जुलाई के महीनें में तेजी के साथ संक्रमण फैला और अब तक राज्य में संक्रमितों की संख्या 82,741 हो गई है राज्य में संक्रमण के कारण पिछले 24 घंटे के दौरान 21 और व्यक्ति की मौत हो गयी अब तक 450 मरीजों की मौत हो चुकी है.Also Read - Gandhi Maidan Blast case: NIA कोर्ट ने 10 में से 9 आरोपियों को दोषी करार दिया, 1 बरी; सजा पर फैसला नवंबर में

बिहार में बाढ़ से 16 जिलों की 74 लाख से अधिक आबादी प्रभावित हुई है और अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है. आपदा प्रबंधन विभाग से सोमवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक बाढ़ से दरभंगा जिले में सबसे अधिक दस लोगों, मुजफ्फरपुर में छह, पश्चिम चंपारण में चार तथा सारण एवं सिवान में दो—दो लोगों की मौत हो चकी है . Also Read - RJD चीफ लालू यादव के निवास के सामने बेटे तेज प्रताप पहले धरने पर बैठे, फि‍र की पिता से मुलाकात

बिहार के सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण, पश्चिम चंपारण, खगडिया, सारण, समस्तीपुर, सिवान, मधुबनी, मधेपुरा एवं सहरसा जिले बाढ़ से प्रभावित हैं . इन जिलों के 126 प्रखंडों की 1240 पंचायतों में 74 लाख से अधिक की आबादी बाढ़ से प्रभावित है. Also Read - Karwa Chauth Ka Chand Kab Niklega: जानिए आपके शहर में कब निकलेगा चांद: यूपी, बिहार, मध्य प्रदेश के इन शहरों में इस समय निकलेगा करवा चौथ का चांद

बाढ़ के कारण विस्थापित लोगों को भोजन कराने के लिए 1239 सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की गई है. दरभंगा जिला में सबसे अधिक 15 प्रखंडों की 220 पंचायतों में बीस लाख से अधिक की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है.

बिहार के बाढ प्रभावित इन जिलों में बचाव और राहत कार्य चलाए जाने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 33 टीमों की तैनाती की गयी है . बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, गंडक, बूढ़ी गंडक, कोशी आदि नदियों में जलस्तर बढ़ने से इन इलाकों में बाढ़ आयी है.