नई दिल्ली. बिहार के गया जिले में अपराधियों ने हैवानियत की हदें पार कर दी. लूट की मकसद से सड़क पर खड़े अपराधियों ने पहले एक डॉक्टर के परिवार को रोक लिया. उसके बाद हथियार का डर दिखाकर पहले तो डॉक्टर को एक पेड़ से बांध दिया और उसकी पत्नी और बेटी के साथ कथित तौर पर गैंगरेप किया. दिल दहला देने वाली यह वारदात गया के कोच थाने के सोनडीहा गांव के पास की है. पीड़ित डॉक्टर गया के पास स्थित गुरारू में निजी क्लीनिक चलाते हैं. वारदात की गंभीरता को देखते हुए पटना रेंज के आईजी नैय्यर हसनैन खान ने मामले पर तत्काल संज्ञान लिया और कोच थाना अध्यक्ष राजीव कुमार सिंह को निलंबित कर दिया है. साथ ही उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही भी शुरू करने का आदेश दे दिया है. खान ने बताया कि पुलिस ने शक के आधार पर 20 युवकों को हिरासत में लिया है. आईजी ने हालांकि सिर्फ डॉक्टर की पत्नी के साथ ही गैंगरेप की बात कही है.

पीड़िता ने दो आरोपियों की पहचान की
पटना रेंज के आईजी नैय्यर हसनैन खान ने बताया कि पुलिस ने वारदात की सूचना मिलते ही जांच-पड़ताल की कार्रवाई शुरू कर दी है. शक के आधार पर सोनडीहा गांव से 20 युवकों को हिरासत में लिया गया था, जिनमें से दो की पहचान पीड़िता ने कर ली है. गया पुलिस दोनों युवकों से पूछताछ कर रही है. पुलिस अफसरों को घटना में शामिल उसके अन्य साथियों की पहचान कर उन सभी की तुरंत गिरफ्तारी सुनिश्चित करने का आदेश दिया गया है. उन्होंने बताया कि रात 9 बजे हुई इस वारदात को 4 अज्ञात अपराधियों ने अंजाम दिया है. आईजी ने सिर्फ डॉक्टर की पत्नी के साथ ही दुष्कर्म करने की बात कही. उन्होंने कहा कि बेटी के साथ मारपीट की गई, जबकि पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया. इस बाबत पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. मामले में पॉक्सो एक्ट लगाया गया है. पीड़ित ने दो लोगों की पहचान कर ली है, बाकी 18 आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने दोनों की मेडिकल जांच भी कराई है.

लुटेरों ने दिया वारदात को अंजाम
स्थानीय पुलिस के अनुसार गुरारू में अपना क्लीनिक चलाने वाले और आंती थाना क्षेत्र के निवासी डॉक्टर अपनी पत्नी और बेटी के साथ बाइक से घर जा रहे थे. कोच थाना के सोनडीहा गांव के पास पहले से राहगीरों के साथ लूटपाट कर रहे लुटेरों ने हथियार के बल पर डॉक्टर और उनके परिजनों को रोक लिया. लुटेरे तीनों को सड़क से थोड़ी दूर ले गए और डॉक्टर को एक पेड़ से बांध दिया. आरोप है कि इसके बाद सभी अपराधियों ने उनकी पत्नी एवं पुत्री के साथ कथित रूप से दुष्कर्म किया. स्थानीय मीडिया की खबरों के अनुसार गैंग रेप की इस वारदात से थोड़ी देर पहले लुटेरों ने घोंघी मठ के राजेंद्र यादव और इटवां के छात्र रंधीर कुमार के साथ भी मारपीट की थी. इन दोनों से भी मारपीट कर रुपए और मोबाइल छीन लिए थे.

(इनपुट – एजेंसी)