नई दिल्‍ली: बॉलीवुड एक्‍टर की सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में आरोपों के घेरे में आई एक्‍ट्रेस रिया चक्रवर्ती की सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका के खिलाफ एक कैवियट लगाई है. वहीं, बिहार सरकार के अटॉर्नी जनरल ने मुंबई पुलिस पर बिहार पुलिस को सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया है. वहीं, महाराष्‍ट्र सरकार ने एक बार फिर दोहराया है कि इस मामले में सीबीआई जांच की कोई जरूरत नहीं है. ये बात महाराष्‍ट्र के गृह राज्‍य मंत्री ने कही है.Also Read - सुप्रीम कोर्ट ने EC और केंद्र को जारी किया नोटिस, कहा- सार्वजनिक पैसों से मुफ्त की चीजें बांटने वालों का पंजीकरण हो रद्द

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के मुताबि‍क,  बिहार सरकार के अटॉर्नी जनरल ललित किशोर ने कहा, जब एक राज्‍य की पुलिस दूसरे राज्‍य में जांच के लिए जाती है तो संबंधित सरकार और उसके अधिकारी सहयोग करते हैं. यह दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि वे (Mumbai Police) सहयोग नहीं कर रहे हैं. Also Read - Reliance Vs DMRC: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, समझौते के लिए बातचीत का सवाल ही नहीं

Also Read - Supreme Court का आदेश- ट्विन-टावर में घर खरीदारों को ब्याज सहित रकम वापस करे सुपरटेक, समय सीमा 28 फरवरी तक

बिहार सरकार के अटॉर्नी जनरल ने कहा, बिहार सरकार ने एक्‍ट्रेस रिया चक्रवर्ती की याचिका (पटना से मुंबई में दर्ज एफआईआर के हस्तांतरण की मांग) को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट के समक्ष caveat दायर की है. वकील मुकुल रोहतगी मामले में लगे हुए हैं.

महाराष्ट्र के गृह राज्‍यमंत्री ने कहा- सीबीआई को जांच सौंपने की जरूररत नहीं
वहीं, महाराष्ट्र के गृह राज्‍यमंत्री ने कहा, बिहार पुलिस शायद इसलिए आई थी क्योंकि वहां एक अलग शिकायत दर्ज की गई थी, लेकिन मुंबई पुलिस की जांच सही दिशा में है और ठीक से जांच करेगी. मामले को सीबीआई को सौंपने की जरूरत नहीं है, महाराष्ट्र पुलिस जांच करने में सक्षम है.

सुशांत के पिता ने मुझे फंसाने के लिए किया अपने ‘प्रभाव’ का इस्तेमाल: रिया चक्रवर्ती
बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट के सामने आरोप लगाया है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने उन पर उनके बेटे को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए पटना में उनके विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने में अपने ‘प्रभाव’ का इस्तेमाल किया है.

प्रभाव का इस्तेमाल किए जाने की झलक’
रिया ने शीर्ष अदालत में याचिका दायर करके अपने विरूद्ध दर्ज इस प्राथमिकी को पटना से मुम्बई स्थानांतरित करने का अनुरोध किया. याचिका में कहा गया है कि प्राथमिकी में रिया के खिलाफ लगाये गए आरोप में राजपूत के पिता द्वारा इस मामले में उन्हें (रिया को) अवैध रूप से फंसाने के लिए ‘प्रभाव का इस्तेमाल किए जाने की झलक’ मिलती है.

14 जून से मुंबई पुलिस कर रही जांच
सुशांत राजपूत 14 जून को मुम्बई के उपनगरीय क्षेत्र बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में फांसी से लटके मिले थे. तब से मुंबई पुलिस विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखते हुए मामले की जांच कर रही है.