नई दिल्ली: बिहार में भारत-नेपाल सीमा पर बसे सीतामढ़ी जिले के लालबन्दी गांव के लोग डरे हुए हैं. ये वही गांव है, जहां के कुछ लोगों पर नेपाल पुलिस ने गोली चला दी थी. इससे एक भारतीय की मौत हो गई थी. एक भारतीय शख्स नेपाल की सीमा पार कर खेतीबाड़ी के काम से गया था. इस घटना से सनसनी फ़ैल गई थी. ये पहला मौका था जब नेपाल जैसे भारतीय मित्र देश की ओर से गोलीबारी की घटना हुई थी. Also Read - Nepal Temples: ये हैं नेपाल के 5 प्रसिद्ध मंदिर, जहां हर साल लाखों की संख्या में दर्शन करने जाते हैं भारतीय

इस घटना के बाद से सीतामढ़ी जिले के लालबंदी गांव के लोग अब भी डरे हुए हैं. गांव के लोगों का कहना है कि हम डरे हुए हैं. नेपाल पुलिस ने एक भारतीय की गोली मारकर जान ले ली थी. गांव के एक शख्स ने कहा कि इस घटना के बाद से गांव के हालात खराब हैं. लोग डरे हुए हैं. लोगों को अपने भविष्य को लेकर डर है. Also Read - नेपाल के पीएम ओली का बयान- नेपाल में जन्मे थे भगवान राम, असली अयोध्या नेपाल में है

बता दें कि भारत और नेपाल हमेशा से मित्र रहे हैं, लेकिन इन दिनों सीमा विवाद को लेकर दोनों देशों के बीच तनाव देखने को मिल रहा है. भारत और नेपाल के लोग आसानी से एक-दूसरे के देशों में जाते हैं. सीमावर्ती इलाकों के भारतीय किसान नेपाल में खेती करते हैं. और भी कई तरह से कारोबार करते हैं. इन दिनों तनाव के कारण इस तरह की कई गतिविधियाँ रुक गई हैं. तीन दिन पहले हुई गोलीबारी की घटना के दौरान भारतीय किसान नेपाल में खेतीबाड़ी का काम ही करने गए हुए थे.