नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और बिहार के किशनगंज से सांसद मौलाना असरारुल हक का शुक्रवार तड़के निधन हो गया. वह 76 वर्ष के थे. पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक, हक गुरुवार रात एक धार्मिक कार्यक्रम (जलसा) में हिस्सा लेने गए थे, जहां उन्हें ठंड महसूस हुई. उन्हें आनन-फानन में सर्किट हाउस लाया गया, जहां तबियत बिगड़ने के बाद स्थानीय अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में उन्हें दिल का दौरा पड़ा. अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों ने उन्हें डेड घोषित कर दिया.

हक के बेटे सोहैल आलम ने बताया कि उनका अंतिम संस्कार पैतृक गांव ताराबडी में शुक्रवार को नमाज के बाद किया जाएगा. साल 2014 में हक कांग्रेस के टिकट पर किशनगंज लोकसभा सीट से लगातार दूसरी बार सांसद चुने गए थे. वे पहली बार 2009 में यहां से चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सांसद के निधन पर शोक प्रकट किया है. उन्होंने ट्वीट किया किशनगंज से कांग्रेस पार्टी के लोकप्रिय सांसद, मौलाना असरारुल हक साहब, के निधन की ख़बर सुनकर बेहद दुःख हुआ. मैं असरारुल हक साहब के परिजनों के प्रति अपनी गहरी शोक और संवेदना व्यक्त करता हूं.