Bihar Lockdown Update: देश में कोरोना बेकाबू हो चुका है. कोरोना पर काबू पाने के लिए देश के कई हिस्सों में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू हैं. बिहार में भी कोरोना का कहर जारी है. कोरोना पर काबू पाने के लिए बिहार में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) समेत कई पाबंदियां लागू हैं. इस बीच कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों पर काबू पाने के लिए बिहार के नवादा जिले में 4 दिन के लॉकडाउन (Lockdown In Bihar) की घोषणा की गई है.Also Read - इजराइल में घूमिये ये 10 खूबसूरत जगहें, टूरिस्टों को अब नहीं कराना होगा RT-PCR टेस्ट

नवादा में शुक्रवार यानी 30 अप्रैल से सोमवार 3 मई जिले में पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगा. इस दौरान सिर्फ 12 तरह की जरूरी सेवाओं से जुड़े दुकान, प्रतिष्ठान और सेवाएं संचालित होगीं. दुकानों और प्रतिष्ठानों को खोलने के लिए समय का भी निर्धारण होगा. Also Read - जातिगत जनगणना को लेकर होने वाली सर्वदलीय बैठक पर नीतीश सरकार ने खत्म किया सस्पेंस, जानें कब तय की गई तारीख

नवादा के डीएम यशपाल मीणा ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए यह जानकारी दी. जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण दर को ध्यान में रखते हुए एहतियात के तौर पर यह निर्णय लिया गया है. कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने को लेकर लॉकडाउन को प्रभावी ढंग से लागू किया जायेगा. इस दौरान पूर्ण सख्ती बरती जायेगी. बता दें कि जिले में फिलहाल 588 एक्टिव मरीज हैं. Also Read - भारत में Omicron के सब वेरिएंट BA.5 के एक और मरीज की पुष्टि, दक्षिण अफ्रीका से वडोदरा आया था शख्स

बता दें कि बिहार में सोमवार को कोरोना संक्रमण से 67 और मरीजों की मौत हो गई. इसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 2,222 पहुंच गई. वहीं 11,801 नए मरीजों की पुष्टि होने के बाद कोविड-19 के कुल मामले 4,15,397 हो गए. स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से पटना में 16 , दरभंगा, गया एवं मुजफ्फरपुर में सात-सात, भागलपुर में पांच, नालंदा एवं पश्चिम चंपारण में चार-चार, मधुबनी में तीन, जहानाबाद एवं मुंगेर में दो-दो, अरवल, औरंगाबाद, मधेपुरा, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, शेखपुरा, सीतामढ़ी, सिवान, सुपौल एवं वैशाली में एक-एक मरीज की मौत हुई है.

बिहार की राजधानी पटना में सबसे अधिक 2720 मरीजों की पुष्टि हुई थी. इसके अलावा अररिया में 100, अरवल में 116, औरंगाबाद में 550, बांका में 78, बेगूसराय में 549, भागलपुर में 379, भोजपुर में 170, बक्सर में 154, दरभंगा में 85, पूर्वी चंपारण में 220, गया में 655, गोपालगंज में 500, जमुई में 96, जहानाबाद में 365, कैमूर में 71, कटिहार में 102, खगड़िया में 231, किशनगंज में 59, लखीसराय में 105, मधेपुरा में 139, मधुबनी में 115, मुंगेर में 263, मुजफ्फरपुर में 337, नालंदा में 306, नवादा में 132, पूर्णिया में 384, रोहतास में 201, सहरसा में 433, समस्तीपुर में 264, सारण में 568, सीतामढ़ी में 111, सिवान में 181, सुपौल में 274 वैशाली में 224 तथा पश्चिम चंपारण जिले में 460 मामले रिपोर्ट हुए हैं.

(इनपुट: भाषा)