Bihar Lockdown Latest Update: देश में कोरोना का कहर जारी है. कई राज्यों में कोरोना (Coronavirus) से बचाव के लिए लॉकडाउन (Lockdown) जैसे कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं. बिहार भी कोरोना से बेहाल है. बिहार में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) समेत कई पाबंदियों के बावजूद रोजाना तेजी से मामले बढ़ते जा रहे हैं. ऐसे में अब सवाल उठने लगे हैं कि क्या कोरोना पर काबू पाने के लिए बिहार में भी लॉकडाउन का ऐलान होने वाला है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी लॉकडाउन के संकेत दे चुके हैं. उधर, बिहार के पड़ोसी राज्य झारखंड में भी एक हफ्ते के लॉकडाउन का ऐलान किया गया है.Also Read - लालू पर फिर मंडराया संकट: दिल्ली-पटना समेत 17 ठिकानों पर CBI कर रही छापेमारी, रेलमंत्री रहते घोटाले का आरोप

बिहार में कोरोना संक्रमण के कारण बीते 24 घंटे के दौरान 51 और मरीजों की मौत हो गई, वहीं 12,222 नए मामले सामने आने से संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 354281 पहुंच गया. स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से जिन 56 मरीजों की मौत हुई, जिसमें पटना एवं भागलपुर में 13-13, दरभंगा, गया एवं जहानाबाद में 4-4, मुजफ्फरपुर में 5, नालंदा एवं सारण में 2-2 तथा अररिया, बक्सर, मधेपुरा, मधुबनी, मुंगेर, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, सुपौल एवं वैशाली में 1-1 मरीज की मौत हो जाने के साथ प्रदेश में इस रोग से संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या बढ़कर 1897 हो गई. Also Read - बिहार की अदालत में अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान और अजय देवगन के खिलाफ याचिका दायर, जानें क्या है मामला...

बिहार में संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित प्रमुख जिलों में गया में 861, सारण में 636, बेगूसराय में 587, औरंगाबाद में 560, भागलपुर में 526, पश्चिम चंपारण में 516, मुजफ्फरपुर में 445, पूर्णिया में 318, वैशाली में 311, नवादा में 268, सिवान में 263, पूर्वी चंपारण में 260, कटिहार में 249, मुंगेर में 229, नालंदा में 225, गोपालगंज में 211, खगड़िया में 200, सुपौल में 194, रोहतास एवं मधुबनी में 178-178, सहरसा में 175, समस्तीपुर एवं जमुई में 168-168, बक्सर में 148, मधेपुरा में 146, शेखपुरा में 144, भोजपुर में 142, जहानाबाद में 136, दरभंगा में 106, लखीसराय में 104, अरवल में 98, कैमूर में 87, किशनगंज में 86, सीतामढ़ी में 85, बांका में 71, शिवहर में 65 तथा अररिया में 57 मामले पिछले 24 घंटों के दौरान सामने आए हैं. Also Read - गर्मी की छुट्‌टी: सिलेबस पूरा करने के बाद ही प्राइवेट स्कूलों में होगा समर वेकेशन, सरकारी स्कूलों में 23 मई से छुट्ट‍ियां शुरू

इस बीच बिहार न्यायिक सेवा संघ के सचिव और किशनगंज जिले के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश अजित कुमार सिंह ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधानसचिव को पत्र लिखकर सभी सिविल कोर्ट के न्यायिक अधिकारियों और कर्मचारियों का टीकाकरण कराए जाने की मांग की है. पटना एम्स के अधीक्षक डॉक्टर चंद्रमणि सिंह ने बताया कि कोरोना की इस दूसरी लहर में उनके अस्पताल में अबतक 384 चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं और वर्तमान में 220 चिकित्सक, नर्स और अन्य कर्मचारी संक्रमित हैं.

(इनपुट: भाषा)