भभुआ: बिहार के कैमूर जिले में स्थित एक गोदाम में जमा कर रखी गयी बीयर की करीब 200 केन के गायब होने के बारे में अधिकारियों ने कहा है कि इसके लिए चूहे जिम्मेदार हैं. बीयर की ये केन जब्त कर गोदाम में भंडारित किये गए थे. Also Read - शराबबंदी के बावजूद स्पिरिट पीकर मर रहे हैं लोग, नीतीश ने कहा यह कानून की विफलता नहीं

बिहार में अप्रैल 2016 से पूर्ण शराबबंदी लागू है और जब्त किए गए अवैध शराब अथवा बीयर को भंडारित कर समय समय पर उन्हें नष्ट किया जाता रहा है. भभुआ की अनुमंडल दंडाधिकारी अनुपम कुमारी ने बताया कि सोमवार को स्थानीय गोदाम में रखे गए जब्त बीयर की केन को नष्ट किये जाने के समय प्लास्टिक से सील केन जगह जगह कटा हुआ मिला. केन देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि इसे चूहे ने कुतरा होगा.

बिहार: ससुर ने नशीला रसगुल्ला खिलाकर बहु से किया रेप, होश में आने पर पहुंची पुलिस के पास

वहीं दूसरी ओर जिला आबकारी अधीक्षक प्रदीप कुमार ने बताया कि बीयर के 200 केन में छेद होने से उनमें रिसाव हो गया. हालांकि, स्पष्‍ट रूप से कुछ कह पाना अभी जल्दीबाजी होगी. उल्लेखनीय है कि पिछले साल जब्त की गयी करीब 9 लाख लीटर शराब में से प्रदेश की राजधानी पटना में भारी मात्रा में चूहे द्वारा नष्ट कर दिए जाने की बात सामने आयी थी.