Bihar Latest News: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के प्रमुख लालू प्रसाद के पटना पहुंचने और राजनीति में एकबार फिर से सक्रिय होने की खबरों के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता और सांसद सुशील कुमार मोदी ने आज मंगलवार को कहा कि जमानत उन्हें स्वास्थ्य के आधार पर मिली है, राजनीति के लिए नहीं. मोदी ने मंगलवार को लालू प्रसाद पर जमकर निशाना साधा.Also Read - बिहार में मौसम का कहर, आकाशीय बिजली से अबतक 22 लोगों की मौत, कई जिलों में आज भी रेड अलर्ट जारी

उन्होंने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से दावा करते हुए लिखा, ‘चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू प्रसाद जमानत पर छूटने के बाद यदि पटना आते हैं, तो इससे राजनीति को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला, लेकिन छवि ऐसी बनाई जा रही है, जैसे वे कोई जिन्न निकाल कर पार्टी का राज वापस ला देंगे.’ मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद रांची में राजकीय अतिथिशाला जैसी जेल में रहते हुए भी ट्विटर और मोबाइल फोन के जरिये सक्रिय थे, लेकिन पिछले विधानसभा चुनाव में आरजेडी की सीटें कम ही हुईं. Also Read - जीतनराम मांझी, अनंत सिंह समेत इन 40 विधायकों ने दिया गलत हलफनामा, छिपाई करोड़ों की संपत्ति

भाजपा नेता ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘लालू प्रसाद ने भाजपा विधायक को तोड़ने और बनने के समय ही राजग सरकार को अस्थिर करने की नाकाम कोशिश तो फोन पर ही की थी. भ्रष्टाचार के मामले में लंबी सजा के कारण वे मुखिया का भी चुनाव नहीं लड़ सकते. जमानत उन्हें स्वास्थ्य के आधार पर मिली है, राजनीति के लिए नहीं.’ Also Read - बिहार के बाहुबली RJD-MLA अनंत सिंह को मिली 10 साल की सजा, छिन जाएगी विधायकी...

उन्होंने आगे कहा, ‘लालू प्रसाद जेल में रह कर या जमानत मिलने पर वर्चुअल माध्यम से यदि राजनितिक गतिविधियों में शामिल होते हैं, तो इस पर सीबीआई को संज्ञान लेना चाहिए.’

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने लालू प्रसाद को सलाह देते हुए एक अन्य ट्वीट में आगे लिखा, ‘जमानत मिलने का सबसे अच्छा उपयोग यही होगा कि लालू प्रसाद पटना में राबड़ी देवी को साथ लेकर कोरोना का टीका लें. इससे गरीबों ग्रामीणों के बीच वैक्सीन को लेकर संशय दूर होगा और टीकाकरण की गति बढ़ेगी.’ उल्लेखनीय है कि अदालत द्वारा जमानत मिलने के बाद से लालू प्रसाद अब तक पटना नहीं पहुंचे हैं. (IANS Hindi)