Bihar Panchayat Election 2021: बिहार पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है और कल यानि दो सितंबर से नामांकन की की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. इस बार कोरोना महामारी और सूबे के कई इलाकों में बाढ़ से बिगड़े हालात को देखते हुए  11 फेज में वोटिंग की प्रक्रिया पूरी होगी और इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने पूरी तैयारी कर ली है.Also Read - Bihar Panchayat Election 2021: नेताजी हुए भैंस पर सवार, कहा-गाड़ी नहीं, यही है मेरी सवारी, देखें VIDEO

24 सितंबर को पहले चरण में 10 जिलों के 12 प्रखंड में होगी वोटिंग
पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान  24 सितंबर को 10 जिलों के 12 प्रखंड में होगा. पहले चरण में रोहतास के दावथ और संझौली, कैमूर के कुदरा, गया के बेलागंज और खिजरसराय, नवादा जिले के गोविंदपुर, औरंगाबाद के औरंगाबाद, जहानाबाद के काको, अरवल के सोनभद्र-बंशी-सूर्यपुर, मुंगेर के तारापुर, जमुई के सिकंदरा और बांका के धोरैया प्रखंड में वोट डाले जाएंगे. Also Read - Bihar Panchayat Election 2021: पंचायत चुनाव से पहले बदल गए हैं ये नियम, मुखिया-सरपंच जान लें अपना काम

कल से शुरू होगी नामांकन प्रक्रिया
बिहार पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए दो सितंबर यानी गुरुवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. 08 सितंबर तक नामांकन होगा और इसके बाद नॉमिनेशन पेपर की समीक्षा की जाएग, जिसकी आखिरी तारीख 11 सितंबर है. फिर 13 सितंबर तक नामांकन पत्र वापस लिया जा सकेगा और इसके बाद उम्मीदवारों को 13 सितंबर को ही चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिया जाएगा. इसके बाद 24 सितंबर को वोटिंग होगी. Also Read - Bihar Panchayat Election 2021: आपके गांव में कब होगा मुखिया-सरपंच का इलेक्शन? देखें बिहार पंचायत चुनाव का Full Schedule

वोटिंग के एक दिन बाद ही रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा
पंचायत चुनाव में रिजल्ट के लिए उम्मीदवारों को इस बार ज्यादा इंतजार नहीं करना होगा. हर फेज की वोटिंग के एक दिन बाद वोटों की गिनती शुरू हो जाएगी और रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा. यानी वोटिंग के करीब 48 घंटे के बाद ही रिजल्ट पता चल जाएगा.

बिहार पंचायत चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल पहली बार हो रहा है. राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश के मुताबिक, 6 पदों पर होने वाले पंचायत चुनाव में सरपंच और पंच के पदों पर बैलेट पेपर के जरिए चुनाव कराया जाएगा और चार पदों के लिए, जिनमें मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्य और जिला परिषद सदस्य हैं उनके लिए मतदान ईवीएम से कराया जाएगा.