नई दिल्ली. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की राजनीति छोड़ने, पार्टी के कुछ नेताओं पर उनकी छवि खराब करने और परिवार में ‘कलह’ कराने के आरोपों ने बिहार की राजनीति को गर्मा दिया है. सोमवार की शाम तेजप्रताप यादव ने फेसबुक पर अपने विधानसभा क्षेत्र महुआ में पार्टी के ही कुछ नेताओं के खिलाफ भड़ास निकाली. इस कथित पोस्ट में तेजप्रताप ने कहा कि पार्टी के इन नेताओं के खिलाफ परिवार में भी उनकी बात नहीं सुनी जाती, जिसके कारण राजनीति करना मुश्किल है. इस पोस्ट को हालांकि कुछ ही देर बाद हटाते हुए तेजप्रताप ने आरोप लगाया कि भाजपा वालों ने उनका अकाउंट हैक कर लिया और इसी दौरान विवादित पोस्ट किया गया. लेकिन राजद का प्रमुख विरोधी दल, जदयू, तेजप्रताप द्वारा दिए गए इस ‘मौके’ को भुनाने से नहीं चूका. जदयू ने तेजप्रताप के इस पोस्ट पर चुटकी ली. बिहार में सत्तारूढ़ जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने आज एक ट्वीट करते हुए पूछा, ‘का भतीजा सब ठीक है न?’

तेजप्रताप ने कहा- मैं जोरू का गुलाम नहीं
फेसबुक पर ‘मेरे शुभचिंतक गण’ के नाम से संबंधित पोस्ट में तेजप्रताप यादव ने राजद के एमएलसी सुबोध राय और ओमप्रकाश यादव भुट्टू पर उनकी छवि खराब करने का आरोप लगाया था. पोस्ट में लिखा था, ‘कल मैं कार्यकर्ताओं की समस्या सुनने महुआ गया था. वहां सभी लोगों की एक ही समस्या थी, विधान पार्षद सुबोध राय और ओमप्रकाश यादव भुट्टू की शिकायत.’ तेजप्रताप ने राजद के स्थानीय नेताओं पर उन्हें पागल और सनकी करार देने का आरोप लगाते हुए कहा कि इन नेताओं के बारे में वे कई बार मम्मी-पापा को बता चुके हैं, लेकिन मम्मी मेरी एक बात नहीं सुनती. सब उन्हें ही डांट देते हैं. इस कारण वे ‘प्रेशर’ में रहते हैं. इतने प्रेशर में राजनीति नहीं की जा सकती है. तेजप्रताप ने पोस्ट में यह भी लिखा था कि वे जोरू के गुलाम नहीं हैं.

2 घंटे बाद हटाया पोस्ट, अकाउंट हैक करने का आरोप
फेसबुक पर परिवार और पार्टी से संबंधित पोस्ट करने के 2 घंटे बाद ही बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने यह पोस्ट हटा लिया. इसके लिए भाजपा और उसकी आईटी सेल को जिम्मेदार बताते हुए उन्होंने कहा कि विरोधी दल के लोग उनकी छवि खराब करना चाहते हैं. तेजप्रताप ने लिखा, ‘मैं आप सब को बताना चाहता हूं कि मेरा फेसबुक एकाउंट हैक कर लिया गया था, जो फेसबुक की मदद से अब रिकवर हो पाया. भाजपा के लोग लगातार मेरे सोशल मीडिया के एकाउंट हैक करने में लगे रहते हैं. आज वे इसमें सफल हो पाए और ऐसा पोस्ट किया जिससे मेरे परिवार, पार्टी में फूट पड़ने का अफवाह फैले और पार्टी कमजोर हो. तेजस्वी मेरा अर्जुन है और रहेगा, और कोई जितना चाहे चाल चले, वो सफल नहीं होंगे.’ उन्होंने अकाउंट हैक करने का दोष संघ और भाजपा आईटी सेल पर लगाते हुए कहा, ‘संघ और भाजपाई आईटी सेल द्वारा मेरा अकाउंट हैक कर हमारे परिवार के बारे में दुष्प्रचार किया जा रहा है.’

जदयू ने तेजप्रताप के पोस्ट पर ली चुटकी
राजद के अंदरूनी कलह और तेजप्रताप यादव के फेसबुक पोस्ट पर जनता दल यूनाइटेड ने चुटकी ली है. जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने आज एक ट्वीट करते हुए तेजप्रताप यादव के बयानों और उनकी फिल्म को लेकर तंज कसा. नीरज कुमार ने ट्वीट किया, ‘का भतीजा!!!..सब ठीक है न? न बेनामी संपत्ति हाथ लगा न ‘हैंडलिंग व स्टोरेज एजेंट’ बनाया गया, तकलीफ तो होगी? न मां बात मान रही और न पिता!’ जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने तेजप्रताप यादव द्वारा कुछ दिन पहले ‘रुद्र द अवतार’ फिल्म के बारे में जानकारी देने को लेकर भी चुटकी ली. उन्होंने कहा, ‘ई तो ..’रुद्र अवतार’ का अभी ट्रेलर भी जारी नही हुआ और तांडव शुरू.! अभी तो पार्टी ही नहीं परिवार में यह ‘रुद्र अवतार’ का ‘टीजर’ है, फिल्म और ट्रेलर तो अभी बाकी है.’ जदयू प्रवक्ता ने तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव के संबंधों और सीएम नीतीश कुमार के राजद में ‘नो इंट्री’ संबंधी बयान पर भी ट्वीट किया. उन्होंने कहा, ‘भतीजा जी.! चाचा के इंट्रीया बंद करे के पहले खुदे के इंट्रीया बचावे के जुगाड़ कर!नही, त ई सब कपटीयन आउ छल करीहे… छोटका के तू तो भले ‘अर्जुन’ मान ल,परन्तु ई महाभारत आसान नइखे. इहां तो धृतराष्ट्र दुर्योधन के बदले छोटका के गद्दी दे दिहले, तो घर मे महाभारत होखही के बा.!’