पटना: बिहार में शुक्रवार को कोविड-19 संक्रमण के 24 नए मामले सामने आए, जिससे आने के साथ राज्य में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 574 हो गए हैं. बिहार स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने शुक्रवार को बताया कि शुक्रवार को समस्तीपुर में 6, खगड़िया में 4, दरभंगा में 4, सहरसा में 2, सुपौल, कटिहार, पूर्वी चंपारण, बांका, भागलपुर, नालंदा, नवादा और बेगूसराय में एक-एक कोरोना संक्रमित मरीज की पुष्टि हुई, जिससे राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 574 हो गई. Also Read - विश्‍व में सबसे ज्‍यादा coronavirus प्रभावित देशों की सूची में भारत 7वें स्‍थान पर

बिहार में अब तक संक्रमित 267 मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से घर लौट चुके हैं और 5 लोगों की अबतक मौत हो चुकी है. बिहार में अब तक 31700 से ज्यादा नमूनों की जांच की जा चुकी है. बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले अब तक सबसे अधिक मुंगेर में 102 मामले सामने आए हैं. Also Read - राजस्थान: अब कोरोना संक्रमित व्यक्ति के घर के आस-पास लगेगा कर्फ्यू, जानें क्या होंगे नियम

इधर, स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना की जांच के लिये राज्य में 7 लैब काम कर रही हैं और इससे जांच में तेजी आयी है. सचिव ने बताया कि राज्य के तीन अस्पतालों पटना के एनएमसीएच, गया के एएनएमसीएच और भागलपुर के जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय को कोविड अस्पताल के रूप में चिन्हित किया गया है. विभिन्न जिलों में कोविड केयर सेंटर में भी आइसोलेशन वार्ड की संख्या बढ़ायी गयी है. Also Read - Bihar: पूर्व सीएम राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव के खिलाफ दर्ज हुआ केस, जानें क्या है मामला

उन्होंने कहा, “कोरोना प्रभावित जिलों की डोर टू डोर स्क्रीनिंग करायी जा रही है. अब तक निर्धारित गाइडलाइन के अनुसार कुल 1 करोड़ 86 लाख 19 हजार घरों का सर्वेक्षण कराया जा चुका है, जिससे 10 करोड़ 34 लाख 14 हजार लोगों की स्क्रीनिंग हुयी है तथा उनमें से 3,850 लोगों में सामान्य सर्दी, खांसी और बुखार के लक्षण पाये गये हैं लेकिन यह आवश्यक नहीं कि वे कोरोना संक्रमित हों.” सचिव ने बताया कि जो भी बाहर से आये हैं उनकी सतत निगरानी की जा रही है, उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है और हेल्थ रिपोर्ट भी ली जा रही है.