नई दिल्ली: देश के अन्य हिस्सों की तरह बिहार में में भी मौसम में आए बदलाव ने मुश्किलें खड़ी कर दी. राज्य में कई जगह आंधी-बारिश ने चीज़ों को अस्त व्यस्त कर दिया. राजधानी पटना में 60 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ़्तार से हवाएं चलीं. तेज़ बारिश हुई. इससे न सिर्फ पेड़ गिरे, कई जगहों पर घर भी क्षतिग्रस्त हो गए. लोगों को रैनबसेरा में शरण लेनी पड़ी. Also Read - Delhi Weather Update: झमाझम बारिश से बदला राष्ट्रीय राजधानी का मौसम, गर्मी-उमस से मिली राहत, आज ऐसा रहेगा मानसून का मिजाज

बताया जा रहा है कि पटना के कंकड़बाग के मुन्नाचक में बिल्डिंग का छज्जा गिरने से हड़कंप मच गया. छह मंजिला बिल्डिंग को खाली कराया गया. यहाँ रहने वाले 80 लोगों को रात में रैनबसेरा में गुजारनी पड़ी. बेली रोड पर हाइकोर्ट मोड़ के पास पेड़ गिर गया. बारिश से कई इलाकों में हुआ जलजमाव हो गया. बेली रोड पर पेड़ गिरने से सड़क के बीच की रेलिंग टूटी गई. इंटरनेट का तार टूटने से कई इलाकों की नेट सेवा भी बाधित हो गई. Also Read - बिहार में एक बार फिर आकाशीय बिजली ने मचाई तबाही, 20 लोगों की मौत, सरकार देगी मुआवजा

तेज हवाओं के बीच बारिश की वजह से उमसभरी गर्मी से भी निजात मिल गई. पारा 5 डिग्री नीचे गिर गया. लोगों को भयंकर उमस से राहत मिली है. Also Read - बिहार में तेज बारिश, पटना में मंत्री के बंगले में ऐसा घुसा बारिश का पानी