पटना: केंद्र सरकार द्वारा चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन खोलने की योजना के साथ देश भर में कंटेनमेंट जोन में 30 जून तक राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन का विस्तार करने की घोषणा के एक दिन बाद, बिहार सरकार ने रविवार को राज्य में 30 जून तक लॉकडाउन के विस्तार की घोषणा की है. एक बयान जारी करते हुए, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को कहा कि राज्य सरकार ने 30 जून तक तालाबंदी का विस्तार करने का निर्णय लिया है. राज्य गृह विभाग ने कहा है कि बिहार में कंटेनमेंट जोन्स में 30 जून तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है.Also Read - बिहार: जहानाबाद में छात्रों ने ट्रेन रोकी, गया में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन को किया आग के हवाले

बता दें कि आज सुबह, बिहार सरकार द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया: “गृह मंत्रालय, केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार की जांच करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं और लॉकडाउन को 30.06.2020 तक बढ़ाया है. चर्चा के बाद, राज्य सरकार ने गृह मंत्रालय के आदेश और उसके दिशानिर्देशों को लागू करने का निर्णय लिया है.” Also Read - RRB-NTPC रिजल्ट विवाद: रेल मंत्रालय का बड़ा फैसला-स्थगित की गईं दोनों परीक्षाएं, सुनी जाएगी कैंडिडेट्स की बात

बिहार में शनिवार को कोरोना वायरस के 206 नए मामले सामने आए जिससे राज्य में संक्रमितों की संख्या 3,565 पहुंच गई जबकि संक्रमण के कारण होने वाली मौतों की संख्या 20 हो गई. वहीं राज्य में कोविड-19 के कारण होने वाली मौत का आंकड़ा शनिवार को 20 तक पहुंच गया. Also Read - प्रदर्शन में रेलवे की संपत्ति की तोड़फोड़ में शामिल अभ्यर्थियों की भर्ती पर लगाया जा सकता है आजीवन बैन: रेल मंत्रालय

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इस बीच, राज्य में 206 लोगों को संक्रमित पाया गया, जिसके साथ बिहार में कुल कोविड-19 मामलों की संख्या 3,565 हो गई. समस्तीपुर के सिविल सर्जन आर आर झा ने बताया कि 35 वर्षीय
मृतक पश्चिम बंगाल का रहने वाला था, जो अपने गृह राज्य की यात्रा के लिए मुंबई से चली एक श्रमिक ट्रेन में सवार था, लेकिन वह ट्रेन में ही गंभीर रूप से बीमार हो गया था.

झा ने कहा, ‘‘उसकी खराब स्वास्थ्य स्थिति के कारण, उसे 26 मई को समस्तीपुर रेलवे स्टेशन पर उतारा गया और अस्पताल ले जाया गया जहां कुछ घंटों के भीतर उसकी मौत हो गई. उसका नमूना परीक्षण के लिए भेजा गया
और उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव निकली.’’ बिहार में सबसे अधिक प्रभावित पटना जिला है, जहां संक्रमण के 241 मामले हैं, इसके बाद रोहतास में 205, बेगुसराय में 199, मधुबनी में 190, मुंगेर में 155 और खगड़िया में 134 मामले
हैं.