नई दिल्ली: मुजफ्फरपुर के अहियापुर में दबंगों द्वारा जिंदा जलाई गई छात्रा ने आज अस्पताल में दम तोड़ दिया. पटना स्थित एक निजी अस्पताल में छात्रा का इलाज चल रहा था. बता दें कुछ दरिंदों ने छात्रा के साथ रेप की कोशिश की थी. छात्रा द्वारा इसका विरोध किए जाने और अपने मकसद में नाकाम हो जाने की वजह से पेट्रोल डालकर छात्रा को जिंदा जला दिया गया था. अपने अंतिम समय में पीड़िता ने कहा कि मुझे इसे हालात में लाकर खड़ा करने वालों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए.

बता दें कि इस वारदात को अंजाम देने के बाद छात्रा को बदमाशों ने खुद निजी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों के अनुसार, पीड़ित छात्रा का शरीर 90 प्रतिशत तक जल चुका था. इस घटना के वक्त पीड़िता अपने घर में अकेली थी. इसी का फायदा उठाकर बदमाश छात्रा के घर में घुस गए और उससे जबरदस्ती करने की कोशिश की. इस मामले में राजा राय नाम के एक आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है.

छात्रा को अस्पताल लाने पर डॉक्टरों ने बताया कि पीड़िता का शरीर बुरी तरह से जल चुका है. इलाज कर उसकी हालत में सुधार लाने की लगातार कोशिश डॉक्टरों द्वारा की जा रही थी लेकिन हालत में किसी प्रकार का सुधार देखने को नही मिला. पिछले काफी दिनों से पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई थी. जिंदगी और मौत से जूझती पीड़िता ने सोमवार की रात दम तोड़ दिया.