पटना: लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने शुक्रवार को बिहार सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि बिहार सरकार की वजह से राज्य के 14.5 लाख लोगों को राशन नहीं मिल पा रहा है. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों में शामिल लोजपा के अध्यक्ष चिराग ने बिहार सरकार पर आरोप लगाते हुए ट्वीट कर लिखा, “लॉकडाउन में केंद्र सरकार ने तमाम प्रदेशों से बचे हुए लगभग 39 लाख राशन कार्ड धारकों की सूची जल्द भेजने को कहा है. जिसमें बड़ी संख्या लगभग 14.5 लाख बिहार प्रदेश के लाभार्थियों की है.” Also Read - चिराग पासवान ने कहा- BJP की चुप्पी से आहत हूं, उनसे रिश्ते 'एकतरफा' नहीं रह सकते

उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार के निरंतर प्रयासों के बाद भी बिहार सरकार ने अभी तक सूची नहीं भेजी है. इस कारण लगभग 14.5 लाख बिहारवासियों को राशन मुहैया करने में परेशानी बनी हुई है. बिहार के जमुई क्षेत्र के सांसद चिराग ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “जिनका नाम राशन कार्ड लिस्ट में नहीं है, वह काफी दिक्कत में है. बिहार में लगभग 14.5 लाख लोगों को इससे जोड़ा जाना है लेकिन प्रदेश सरकार ने अभी तक लाभार्थियों की सूची केंद्र को नहीं दी है जिससे उन्हें राशन का लाभ नहीं मिल रहा है. मुझे विश्वास है जल्द नीतीश कुमार जी इसपर कदम उठाएंगे.” Also Read - LJP में जंग के बीच चिराग उतरेंगे सड़क पर, पिता की जयंती पर हाजीपुर से पूरे बिहार में निकालेंगे 'आशीर्वाद यात्रा'

बता दें कि कोरोना वायरस के मद्देनजर देशभर में लॉकडाउन लगाया गया है. इस बाबत सभी मजदूरों व राशन कार्ड धरकों को अनाज उपलब्ध कराया जा रहा है. लॉकडाउन के कारण लोगों के पास रोजगार के साधन उपलब्ध नहीं है. यही वजह है कि सरकार की तरफ से कई प्रयास किए जा रहे हैं. बिहार में अबतक कोरोना वायरस के 157 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 46 लोगों को इलाज कर ठीक किया जा चुका है. वहीं मरनेवालों की संख्या 2 है. बता दें कि बिहार में सिवान, जमुई, बेगुसराय ये सभी कोरोना हॉटस्पॉट हैं.