नई दिल्ली: बिहार के मिथिलावासियों के लिए अब हवाई सफर का सपना पूरा होने वाला है. दरभंगा हवाई अड्डे से व्यावसायिक उड़ानों के संचालन के लिए सिविल एंक्लेव बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है जिसका शिलान्यास 24 दिसम्बर को होगा. इस हवाईअड्डे का इस्तेमाल अभी तक वायु सेना द्वारा किया जाता रहा है लेकिन अब इसका प्रयोग व्यवसायिक उड़ानों के लिए भी होगा. शिलान्यास नागरिक विमानन मंत्री सुरेश प्रभु और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे. इस मौके पर कई और दिग्गज उपस्थित रहेंगे. Also Read - शपथ लेते ही काम में जुटे नीतीश कुमार, कल सुबह 11 बजे कैबिनेट की पहली बैठक आयोजित

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय मीडिया टीम के उप प्रभारी और विधान पार्षद संजय मयूख ने शनिवार को बताया कि संभावना है कि अगले साल जुलाई महीने से यहां से व्यवसायिक उड़ानें शुरू हो जाएंगी. उन्होंने बताया कि ‘रीजनल कनेक्टिवटी स्कीम’ के तहत बिहार का यह पहला हवाईअड्डा होगा, जहां से विमानों की आवाजाही के लिए सुविधा उपलब्ध होगी. उन्होंने बताया कि 24 दिसंबर को आयोजित कार्यक्रम में बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा और रामपाल यादव भी शिरकत करेंगे. Also Read - Bus caught Fire in Bihar: बिहार में चलती बस में लगी भीषण आग, 50 यात्री थे सवार

दरभंगा हवाई अड्डा से व्यवसायिक उड़ान प्रारंभ होना मिथिलावासियों के लिए बहुत लाभदायक होगा. पहले उत्तर बिहार के हज यात्रियों या आम लोगों को घरेलू या अंतर्राष्ट्रीय उड़ान पकड़ने के लिए पटना या गया जाना पड़ता था. पीएम मोदी ने हाल ही में एक कार्यक्रम में भारत में तेजी से बढ़ते एविएशन सेक्टर का जिक्र किया था. पीएम ने कहा, क्या चार पहले किसी ने सोचा था कि भारत का एविएशन सेक्टर इतना तेज आगे बढ़ेगा कि कंपनियों को एक हजार नए हवाई जहाज का ऑर्डर देना पड़ेगा? और आपको जानकर हैरानी होगी कि हमारे देश में आजादी से अबतक कुल 450 हेलीकॉप्टर हैं, प्राइवेट हों, पब्लिक हों, सरकारी हों, कुछ भी हो. Also Read - Bihar Election 2020: दरभंगा में RJD-BJP को कड़ी टक्कर दे रहे निर्दलीय प्रत्याशी को गोलियों से भूना