पटना: बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने रविवार को राज्य में कोविड-19 (Covid-19) की वजह से मौत होने वाले लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की. बिहार में दो और लोगों के कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से मौत होने के बाद इस महामारी में जान गंवाने वालों की संख्या 13 हो गई है. Also Read - कोरोना: मुंबई में दो महीने बाद थोड़ी राहत, एक दिन में सबसे कम 806 नए मामले सामने आए

वहीं, राज्य में कोरोना वायरस के 117 नए मामले आने के साथ राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,511 हो गई है जिनमें से 200 मामले अकेले राजधानी पटना में है. आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण से 13 लोगों की मौत होने पर शोक व्यक्त करते हुए कुमार ने मुख्यमंत्री राहत कोष से प्रत्येक मृतक के परिजन के लिए चार-चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि जारी करने की घोषणा की. Also Read - Corona Virus: मध्य प्रदेश के इस इलाके पर टूटा कोरोना का कहर, अनिश्चितकाल के लिए लगा लॉकडाउन

कुल 13 मृतकों में से एक मृतक के परिवार को पहले ही अनुग्रह राशि दी जा चुकी है जबकि 12 अन्य मृतकों के परिजनों को राशि का तत्काल भुगतान करने का निर्देश दिया गया. इससे पहले दिन में नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) के अधीक्षक डॉ एन के सिन्हा ने बताया, ‘‘सिवान जिले के रहने वाले 60 वर्षीय शख्स की नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) में आज मौत हो गयी. उन्हें मधुमेह के साथ किडनी और श्वसन संबंधी समस्याएं थीं.’’ Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,008 नए मामले सामने आए, कुल संक्रमित संख्या 1,02,831 हुई; 3,165 की मौत

वहीं सारण (छपरा) जिले में 48 वर्षीय एक व्यक्ति की कोविड-19 से मौत हो गई. हालांकि, स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि रोगी को 22 मई को एनएमसीएच में भर्ती कराया गया था और आज सुबह अस्पताल में उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गयी.

पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) के अधीक्षक बिमल कुमार कारक ने बताया कि सारण जिले के मढ़ौरा के रहने वाले 48 साल के एक शख्स को बुखार तथा खांसी के बाद 22 मई को पीएमसीएच में भर्ती कराया गया था. शनिवार शाम उसकी मृत्यु हो गयी.

कारक ने बताया कि मृतक के नमूने 22 मई को ही ले लिये गये थे लेकिन जांच में कोविड-19 के संक्रमण की बात रविवार को उसकी मौत के बाद रिपोर्ट में ही साफ हुई. अब तक राज्य में संक्रमण से 13 लोगों की मौत हुई है, जिनमें दो-दो मामले पटना, वैशाली और खगडि़या से, वहीं एक-एक मामला रोहतास, मुंगेर, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, बेगूसराय, सारण और सिवान से है.

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक रविवार को सामने आए 117 मामलों में सबसे अधिक 38 मामले कटिहार में सामने आए हैं. इसके अलावा बांका और रोहतास (ससाराम) में 11-11, बेगूसराय में नौ और पूर्णिया में सात मामले सामने आए हैं. राज्य में अब तक सामने आए 2,511 कोविड-19 मरीजों में 1,796 उचाराधीन हैं जबकि 702 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. वहीं 13 मरीजों की मौत हुई है.

स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने बताया कि तीन मई से अब तक दूसरे राज्यों से लौटे 1,599 प्रवासी मजदूरों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. उन्होंने बताया कि बताया कि 1,599 संक्रमित प्रवासी मजदूरों में सबसे अधिक 392 दिल्ली से लौटे हैं जबकि 362 मरीज महाराष्ट्र से, 266 गुजरात से और 128 हरियाणा से लौटे हैं.