नई दिल्ली: देश में फैली महामारी के कारण बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर अपने गृह राज्यों की ओर वापस चले गए. इस बीच बिहार में प्रवासी मजदूरों से सबंधित एक अजीब मामला देखने को मिला है. यहां बिहार सरकार उन प्रवासी मजूदूरों को कंडोम का वितरण कर रही है, जो 14 दिनों के क्वारंटीन के बाद अपने घर जा रहे हैं. राज्य सरकार की मानें तो राज्य में अबतक 30 लाख प्रवासी राज्य में वापस लौट चुके हैं.Also Read - कोरोना का डेल्टा वेरिएंट बेहद खतरनाक, चेचक की तरह आसानी से बन सकता है गंभीर संक्रमण का कारण- रिपोर्ट

इस बाबत बिहार स्वास्थ्य विभाग के एक डॉक्टर ने बताया कि इस पहल की शुरुआत परिवार नियोजन के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिया गया है. उन्होंने कहा कि लाखों प्रवासी मजदूर राज्य में वापस आए हैं. ऐसे में राज्य में जनसंख्या नियंत्रण में रहे इस कारण उन्हें कंडोम का वितरण किया जा रहा है. इस पहल में हम हमारे स्वास्थ्य सहयोगी केयर इंडिया से मदद ले रहे है. Also Read - तेजस्वी यादव का दावा, 'नीतीश कुमार ने जाति जनगणना का मुद्दा केंद्र के समक्ष उठाने पर सहमति जताई है'

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी को क्वारंटीन सेंटरों में 2 पैकेट कंडोम बांटे जा रहे हैं. आशा कार्यकर्ता घर घर घूम कर जो लोग होम क्वारंटीन में हैं उन्हें भी कंडोम के पैकेंट बांट रही हैं. साथ ही कुछ जिलों में गर्भनिरोधकों का भी वितरण किया जा रहा है. परिवार नियोजन विभाग इस प्रक्रिया को जून महीने के मध्य तक जारी रखेगी. उन्होंने बताया कि अब भी 13 लाख लोग क्वारंटीन सेंटरों में हैं. Also Read - UP Covid-19 Update: कोरोना से लड़ने में सफल हुआ यूपी! आज सिर्फ 42 नए केस मिले, 729 एक्टिव केस बचे

वहीं केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक अमित कुमार ने इस बाबत कहा कि घर-घर जाकर स्वास्थ्य की जांच करने के दौरान गर्भनिरोधकों यानी कंडोम का वितरण करना काफी आसान है. जिन्हें इसका लाभ क्वारंटीन सेंटरों में नहीं मिला, उनके घर कंडोम के पैकेट जल्द ही पहुंचा दिए जाएंगे.