Corona Virus in Bihar: बिहार में कोविड-19 (COVID-19) से 46 और लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद राज्य में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,079 हो गई है. स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि वायरस संक्रमण के 46 और मामले सामने आए. ताजा मामलों में से पांच पटना जिले से सामने आए हैं जहां संक्रमित लोगों की संख्या अब 105 हो गई है. उन्होंने कहा कि नए मामलों में से 14 वर्षीय एक लड़की बख्तियारपुर ग्रामीण इलाके की है जबकि चार अन्य बिहार मिलिट्री पुलिस (बीएमपी) की 14वीं बटालियन के जवान हैं. Also Read - लॉकडाउन में अंडर-19 खिलाड़ियों को मिली ये सीख, जानिए राहुल द्रविड़ की जुबानी

शहर के खाजपुरा इलाके में स्थित बीएमपी-14 के अब तक 25 जवान संक्रमित हो चुके हैं. संक्रमण की यह श्रृंखला तब शुरू हुई जब बिजलीगली इलाके की 32 वर्षीय एक महिला सांस में तकलीफ के कारण एम्स में भर्ती कराए जाने पर संक्रमित मिली. कुछ दिनों के अंदर ही इलाक के 20 लोग संक्रमण का शिकार हो गए और जल्द ही आस पास के इलाकों जैसे राजा बाजार और बेली रोड स्थित बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) के कार्यालय के पास स्थित झुग्गियों में फैल गया. Also Read - अम्फान प्रभावितों की मदद को आगे आया KKR, किया इस नेक काम का वादा

पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने कहा कि बीपीएससी के पास स्थित झुग्गियों के इलाके बिजली गली और राजा बाजार की मछली गली के अलावा बीएमपी-14 की कम से कम पांच बैरकों को निषिद्ध क्षेत्र घोषित किया गया है. उन्होंने कहा कि इन इलाकों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है. प्रधान सचिव ने कहा कि जमुई जिले में कोविड-19 से सात और लोग संक्रमित मिले हैं. यहां पहला मामला 12 मई को सामने आया था और अब जिले में कुल मामले बढ़कर 10 हो गए हैं. Also Read - सावधान: हवाई यात्रा में रहें सतर्क, स्पाइसजेट की अहमदाबाद से गुवाहाटी की उड़ान में दो यात्री कोरोना वायरस संक्रमित

बांका जिले से 18 नए मामले मिले हं जबकि शेखपुरा से कोविड-19 के 10 नए मामले मिले हैं. कटिहार में तीन और औरंगाबाद में दो लोग संक्रमित मिले हैं. मुंगेर जिले में दो साल का एक बच्चा कोविड-19 संक्रमित मिला है. जिले में अब तक सबसे ज्यादा 123 मामले सामने आ चुके हैं. कोरोना वायरस संक्रमण अब राज्य के सभी 38 जिलों में पांव पसार चुका है. रोहतास में अब तक 77, कैमूर में 66 और बक्सर में 59 मामले सामने आ चुके हैं.

बिहार में इस महीने के शुरू से संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े हैं खास तौर पर विशेष ट्रेनों और अन्य माध्यमों के जरिये राज्य में प्रवासियों के बड़ी संख्या में लौटने के बाद. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक चार मई के बाद प्रदेश में लौटे प्रवासियों में से 427 कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से अधिकतर दिल्ली (112), गुजरात (106), महाराष्ट्र (97) से आए हैं. राज्य में ‘श्रमिक विशेष’ ट्रेनों से अब तक देश के अलग-अलग हिस्सों से करीब तीन लाख प्रवासी लौट चुके हैं जबकि बसों, ट्रकों, साइकिलों और पैदल आने वाले कुल प्रवासियों का आंकड़ा 10 लाख के करीब होने का अनुमान है. राज्य में अब तक कुल 44,398 नमूनों की जांच की जा चुकी है और वायरस के प्रसार को रोकने के लिये जांच की संख्या को बढ़ाने के प्रयास किये जा रहे हैं. अभी पटना में चार जगहों और मुजफ्फरपुर, दरभंगा व भागलपुर में एक-एक जगह नमूनों की जांच की व्यवस्था है.