पटना: बिहार में मंगलवार को 81 लोगों के कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जिससे कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 830 तक पहुंच गई. पॉजिटिव मिले लोगों में अधिकांश खगड़िया और पश्चिम चंपारण जिले के रहने वाले हैं. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने मंगलवार को बताया कि राज्य में 81 लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जिससे राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 830 तक पहुंच गई है. Also Read - Coronavirus In US Update: कोरोना संक्रमितों की संख्या 18 लाख के पार, हिंसक प्रदर्शन जारी

उन्होंने बताया कि मंगलवार को खगड़िया में 16, पश्चिम चंपारण में 14, रोहतास में 13, बेगूसराय में 9, पटना में 7, मुजफ्फरपुर में 3, मधुबनी में 4, दरभंगा, औरंगाबाद, गोपालगंज में 2-2 तथा कटिहार, भोजपुर, अरवल, सारण, पूर्णिया, भागलपुर, सीवान, बांका और सुपौल में एक-एक लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है. Also Read - अब वाजिद खान की मां को हुआ कोरोना, उसी अस्पताल में चल रहा इलाज जहां बेटा था एडमिट 

बिहार में अब तक 383 कोरोना पॉजिटिव मरीज इलाज के बाद स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं. घर लौट रहे लोगों को 14 दिनों तक होम क्वारंटीन में रहने का निर्देश दिया गया है. बिहार में कोरोना संक्रमण से छह लोगों की मौत हो चुकी है. Also Read - बिहार के क्वारंटीन सेंटरों में बांटे जा रहे हैं कंडोम, अधिकारियों ने कहा- जिसे नहीं मिला उसके घर भेजेंगे हम

राज्य में सोमवार को 53 मामले सामने आए थे. बिहार में प्रवासी मजदूरों के लौटने के साथ ही संक्रमितों की संख्या ों तेजी से बढ़ी है. कोरोना वायरस का फैलाव राज्य के 38 में से 37 जिलों तक हो चुका है. इन 37 जिलों में सबसे अधिक 115 मामले मुंगेर जिले में सामने आए हैं.

स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने बताया कि बिहार में 3 मई के बाद श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से आए 190 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इनमें महाराष्ट्र से 44, गुजरात से 46, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के 55, पश्चिम बंगाल के 16, उत्तर प्रदेश के 11 सहित अन्य राज्यों से अपने राज्य में आए लोग शामिल हैं. उन्होंने बताया कि बाहर से आने वाले लोगों की जांच के लिए एसओपी तैयार है. जांच में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने वाले लोगों का कोविड केयर सेंटर में इलाज किया जा रहा है.