पटना: बिहार में शनिवार को कोरोना वायरस के 206 नए मामले सामने आए जिससे राज्य में संक्रमितों की संख्या 3,565 पहुंच गई जबकि संक्रमण के कारण होने वाली मौतों की संख्या 20 हो गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि पश्चिम बंगाल के उस प्रवासी मजदूर को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया, जिसकी कुछ दिनों पहले समस्तीपुर में मृत्यु हो गई थी, जब वह मुंबई से अपने गृह राज्य जा रहा था. इसके साथ ही कोविड-19 के कारण होने वाली मौत का आंकड़ा शनिवार को 20 तक पहुंच गया.Also Read - Coronavirus Update: WHO ने फिर चेताया, कहा- 'कोरोना वायरस कभी भी पूरी तरह से समाप्त नहीं होगा लेकिन...'

विभाग ने बताया कि इस बीच, राज्य में 206 लोगों को संक्रमित पाया गया, जिसके साथ बिहार में कुल कोविड-19 मामलों की संख्या 3,565 हो गई. समस्तीपुर के सिविल सर्जन आर आर झा ने बताया कि 35 वर्षीय मृतक पश्चिम बंगाल का रहने वाला था, जो अपने गृह राज्य की यात्रा के लिए मुंबई से चली एक श्रमिक ट्रेन में सवार था, लेकिन वह ट्रेन में ही गंभीर रूप से बीमार हो गया था. Also Read - रक्षा मंत्री Rajnath Singh के बेटे और Noida से विधायक Pankaj Singh कोरोना वायरस से संक्रमित

झा ने कहा, ‘‘उसकी खराब स्वास्थ्य स्थिति के कारण, उसे 26 मई को समस्तीपुर रेलवे स्टेशन पर उतारा गया और अस्पताल ले जाया गया जहां कुछ घंटों के भीतर उसकी मौत हो गई. उसका नमूना परीक्षण के लिए भेजा गया और उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव निकली.’’ Also Read - Coronavirus: क्‍या कोरोना को मामूली फ्लू की तरह मानते हुए यूरोप के नक्‍शेकदम पर चलेगी दुनिया? विशेषज्ञों का क्या है मानना...

बिहार में सबसे अधिक प्रभावित पटना जिला है, जहां संक्रमण के 241 मामले हैं, इसके बाद रोहतास में 205, बेगुसराय में 199, मधुबनी में 190, मुंगेर में 155 और खगड़िया में 134 मामले हैं.

सरकार ने राज्य में लौटे प्रवासियों को पृथक वास में रखने का निर्णय लिया है. जिन लोगों में कम या फिर न के बराबर लक्षण हैं उन्हें अपने घर जाने दिया जा रहा है लेकिन उन्हें घर पर ही क्वारंटीन पीरियड बिताना होगा. सरकार वो सभी कदम उठा रही है जिससे संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके.