नई दिल्ली: बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने जनसंख्या बढ़ने के पीछे कम पढ़े लिखे लोगों को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि कम पढ़े लोग ज़्यादा बच्चे करते हैं जबकि पढ़े लिखे लोग कम बच्चे पैदा करते हैं. वो यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि शिक्षित होने पर किसी भी तरह से परिवार नियोजन की जरूरत नहीं है. जनसंख्या नियंत्रण अपने आप ही हो जाएगा. Also Read - बिहार में बढ़ा कोरोना संकट, CM नीतीश कुमार ने राज्य के मंत्रियों को दी जिलेवार जिम्मेदारियां

जनसंख्या नियंत्रण के लिए बीजेपी नेता व बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने जनसंख्या कैसे रुक सकती है पर बयान दिया. उन्होंने कहा कि शिक्षा हर समस्या का समाधान है. अगर की संख्या घटाना है तो शिक्षित कर दीजिए. कोई परिवार नियोजन की जरूरत नहीं है. जो पढ़े-लिखे लोग हैं, उनके बच्चे कम होते हैं और जो कम-पढ़े लिखे लोग हैं उनके बच्चे बहुत ज्यादा होते हैं. Also Read - Big Accident in Bihar: पटना में गंगा नदी में जीप गिरी, 9 शव बरामद, बचाव अभियान जारी

बता दें कि सुशील मोदी ने आज ही बीजेपी के ही नेता शत्रुघ्न सिन्हा पर भी निशाना साधा है. उन्होंने शत्रुघ्न सिन्हा को बीजेपी का शत्रु बताते हुए पार्टी छोड़ने की बात कही दी. उन्होंने शत्रुघ्न को अपना नाम भी बदलने को कहा था.