पटना| प्यार में एक युवती को ऐसा धोखा मिला है जिसके बारे में उसने सपने में भी नहीं सोचा होगा. प्रेमी ने ही अपने दोस्तों के साथ मिलकर प्रेमिका का गैंगरेप किया और उसके बाद खुद को पुलिस से बचाने के लिए प्रेमी और उसके दोस्तों ने मिलकर युवती को जान से मारने की कोशिश की. उस पर चाकू से वार किया. दरिंदे प्रेमी और उसके दोस्तों को जब लगा कि युवती मर चुकी है तो उन्होंने उसे नारायण गांव के पुनपुन नदी में यह सोच कर फेंक दिया कि लाश बह जाएगी. Also Read - Corona Guidelines for Navratri and Ramadan 2021: यूपी, बिहार से लेकर महाराष्ट्र तक, जानिए इन 6 राज्यों में नवरात्र और रमजान को लेकर क्या हैं नियम?

चौकाने वाली बात ये है कि इतना सबकुछ होने के बावजूद लड़की की जान बच गई. अब प्रेमी समेत तीन लोग पुलिस के कब्जे में हैं. नदी में फेंके जाने के बाद भी युवती की सांसे चल रही थी. लड़की को नदी में तैरना आता था और करीब एक घंटे लड़की नदी में तैरती रही. जिस वक्त उसे नदी में फेंका गया उस समय करीब 10 बज रहे थे और अंधेरे में उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था. लगातार एक घंटे तक तैरने के बाद वो विक्रमपुर गांव के पास पहुंची. Also Read - Bihar: पश्‍चिम बंगाल में भीड़ के हमले में मारे गए SHO की बेटी ने कहा- यह षड़यंत्र, मैं CBI जांच की मांग करती हूं

वहां गांव के लोगों से मिल उसने अपनी आपबीती बताई. उसकी बातें सुन गांव के लोगों के होश उड़ गए. लोगों ने तुरंत फतुहा थाना की पुलिस टीम को इसकी सूचना दी. पीड़िता हाई स्कूल की दसवीं क्लास की स्टूडेंट है. इसकी दोस्ती फतुहा के जेठुली के रहने वाले गौतम से हो गई थी. दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई थी. गौतम ने शादी करने के नाम पर अपनी प्रेमिका को झांसा दिया. शादी की बात करने को लेकर वो परसा बाजार से प्रेमिका को फतुहा बुलाया. युवती मिलने भी आ गई. Also Read - पश्चिम बंगाल में पीट-पीटकर मारे गए बिहार के पुलिस अफसर की मां का निधन, बेटे की हत्या से सदमे में थीं

गौतम उस लड़की को लेकर एक सुनसान इलाके में गया जहां एक फैक्ट्री के अंदर उसके तीन दोस्त पहले से थे. लड़की के सामने उसने शर्त रखी कि वो शादी तभी करेगा, जब वो उसके साथ ही उसके दोस्तों के साथ फिजिकल रिलेशन बनाएगी. ये सुन लड़की के होश उड़ गए. इतना सुनते ही लड़की किसी तरह से वहां से निकलना चाहती थी. लेकिन ऐसा हो नहीं सका. लड़की के मना करने के बाद भी गौतम और उसके दोस्तों ने एक-एक कर उसका रेप किया.

पुलिस को सूचना मिलते ही पर फतुहा के एसएचओ और उनकी टीम ने तेजी से कार्रवाई शुरू कर दी. सबसे पहले लड़की से उसका बयान लिया. फिर उसे इलाज और मेडिकल टेस्ट के लिए भेज दिया. लड़की के बताए नाम-पते पर पुलिस टीम पहुंची. एक घंटे के अंदर जेठुली से गौतम और वारदात में शामिल उसके तीनों दोस्तों रिस्की, पंकज और बाबा को गिरफ्तार कर लिया.