पटनाः बिहार की किशनगंज विधानसभा सीट जीतकर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने बिहार विधानसभा में अपना खाता खोल लिया है. एआईएमआईएम की इस जीत को केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह ने सामाजिक समरसता के लिए खतरा बताया है.

भाजपा पर शिवसेना ने कसा तंज कहा- ‘‘सत्ता का घमंड’’ करने वालों के लिए सबक है चुनाव परिणाम

अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले सिंह ने शुक्रवार को बिहार के लोगों को सचेत करते हुए ट्वीट कर लिखा, “बिहार के उपचुनाव में सबसे खतरनाक परिणाम किशनगंज से उभर कर आया है. ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम जिन्ना की सोच वाली है, ये वंदे मातरम से नफरत करते हैं. इनसे बिहार की सामाजिक समरसता को खतरा है.”

द‍िल्‍ली में निर्दलीय विधायकों से मिलने के बाद खट्टर बोले- हम हरियाणा में सरकार बनाने जा रहे हैं

भाजपा के ‘फायरब्रांड’ नेता माने जाने वाले गिररिाज सिंह ने बिहार के लोगों को सचेत करते हुए आगे लिखा, “बिहारवासियों को अपने भविष्य के बारे में सोचना चाहिए.” उल्लेखनीय है कि एआईएमआईएम ने बिहार विधानसभा में अपना खाता खोल लिया है. किशनंगज विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में एआईएमआईएम ने कांग्रेस से यह सीट छीन ली है. इस उपचुनाव में एमआईएमआईएम के कमरूल होदा ने 10 हजार से अधिक मतों से भाजपा की प्रत्याशी स्वीटी सिंह को पराजित किया.