बिहार: बीते कई दिनों से बारिश का इंतज़ार कर रहे बिहार के किसान अब राहत महसूस कर रहे हैं. प्रदेश के कई जिलों में बीते एक सप्ताह से भारी बारिश हो रही है. बीते दिनों से बढ़ी मानसून की इस सक्रियता ने किसान समुदाय में अच्छी फसल तैयार होने की आस जगा दी है. अभी एक सप्ताह पहले तक धान की रोपाई महज 10 फीसदी हुई थी. लेकिन यह रोपाई शुक्रवार तक 35 फीसदी तक पहुंच गई. Also Read - पीएम मोदी ने कहा- देश में पहली बार रेहड़ी-पटरी वालों को भी मिलेगा लोन, 'जय किसान' मंत्र भी आगे बढ़ा

Also Read - कैबिनेट का फैसला: किसानों को फसलों की बेहतर कीमत मिलेगी, लोन वापसी का समय बढ़ा, कारोबारियों को भी राहत

आफत की बारिश: दो दिन में 33 से अधिक लोगों की मौत, अखिलेश ने कहा, भ्रष्ट और दिखावटी है स्वच्छता अभियान Also Read - मोदी सरकार का किसानों के लिए कर्ज माफ़ी का बड़ा प्लान, 1 लाख करोड़ के लोन होंगे माफ़!

98 हजार में से 34 हेक्टेयर की हो चुकी है रोपाई

आंकड़ों के आधार पर यह पता चलता है की बीते दिनों की भारी बारिश ने धान रोपाई में किसानों की सक्रियता बढ़ा दी है. इस साल 98 हजार हेक्टेयर में धान की रोपाई की जानी है जिसमे से अभी तक 34 हजार 300 हेक्टेयर में धान की रोपाई पूरी कर ली गई है.

बिहार में सक्रिय हुआ मानसून, अगले 2 दिनों तक जोरदार बारिश की सम्भावना

जानकार इन आंकड़ों को पूरी तरह से किसानों के पक्ष में बताते हैं. अच्छी बारिश ने किसानों की सहूलियत बढ़ा दी है, बिहार में कृषि विभाग में काम कर रहे एक पदाधिकारी ने बताया कि जिस गति से किसान धान की रोपाई कर रहे हैं उससे लगता है की आने वाले 15 दिनों में धान की रोपाई पूरी हो जाएगी.

कम बारिश ने बढ़ा दी थी धड़कन

चार जुलाई के बाद बारिश ने दस्तक देना बंद कर दिया था जिससे किसानों के दिलो की धड़कन बढ़ गयी थी, इससे किसानों के बीच पानी को लेकर हाहाकार मच गया था जिन खेतों में रोपाई हुई थी, वहां पर धान की फसलें सूखने लगी थी. ऎसे में किसानों को लग रहा था कि इस साल सूखा पड़ जाएगा पर बीते सप्ताह से हो रही भारी बारिश से किसानों के चेहरे की मुस्कान लौटा दी है.

UP: बारिश का कहर, प्रदेश भर में 24 घंटे के अंदर 20 से अधिक लोगों की मौत

मौसम विभाग के अनुसार बिहार में आने वाले 2 दिनों तक भी बारिश जारी रहेगी, मौसम विभाग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि राज्य के कई हिस्सों में बादल छाए रहेंगे एवं कई हिस्सों में झमाझम बारिश होने के भी आसार हैं हालांकि ये बारिश किसानों के लिए किस हद तक लाभदायक रहेगी ये आने वाले दिनों में पता लग जाएगा.