Bihar Assembly Election 2020: बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) आज शाम जनता दल यूनाइटेड (JDU) में शामिल हो जाएंगे. गुप्तेश्वर पांडेय ने हाल ही में बिहार के DGP पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) लिया है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक गुप्तेश्वर पांडेय आज शाम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी JDU में शामिल हो जाएंगे. VRS के बाद से ही उनके राजनीति में आने की कयासबाजी चल रही थी. एक दिन पहले ही उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार से मुलाकात की थी. गुप्तेश्वर पांडेय के बक्सर सीट से विधानसभा चुनाव लड़ने की संभावना है. Also Read - Bihar Polls 2020: दूसरे फेज के चुनाव से पहले नीतीश कुमार ने खेला आबादी के हिसाब से आरक्षण का दांव, कही यह बात...

VRS के बाद मीडिया के सामने आए गुप्तेश्वर पांडे ने कहा था कि उनके सेवानिवृत्त होने का सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले से कोई लेना-देना नहीं है. हालांकि इस दौरान उन्होंने चुनाव लड़ने के संकेत भी दिये थे. उन्होंने पूछा था कि चुनाव लड़ना पाप है क्या? लेकिन मैंने अभी इस बारे में कुछ तय नहीं किया है. उन्होंने कहा कि मैंने अभी कोई पार्टी ज्वाइन नहीं की है. जहां तक सामाजिक कार्यों की बात है, मैं इसे राजनीति में प्रवेश किए बिना भी कर सकता हूं.

एक दिन पहले नीतीश कुमार से हुई मुलाकात के बाद उन्होंने मीडिया को बताया था कि अभी वो चुनाव लड़ेंगे या नहीं, ये तय नहीं किया है. हां, उन्होंने सीएम नीतीश का फिर से काफी गुणगान किया और कहा कि उन्होंने मेरे डीजीपी पद पर रहते हुए मेरे कार्यक्षेत्र में कभी दखलअंदाजी नहीं की. उन्होंने मुझे काम करने के लिए पूरी छूट दी, जिस वजह से मैं DGP के तौर पर अपना काम बेहतर तरीके से कर सका.

ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि वे वाल्मीकिनगर से लोकसभा का उपचुनाव लड़ सकते हैं. इसके साथ ही पांडेय को नीतीश कुमार की अगुआई वाली जनता दल यूनाइटेड वाल्मीकि नगर सीट से उपचुनाव में अपना प्रत्याशी बनाने की भी खबरें मिल रही हैं. दूसरी तरफ उनके बिहार विधानसभा चुनाव में भी बक्सर के किसी विधानसभा सीट से खड़े होने की उम्मीद जताई जा रही है.

बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय के VRS लेने के बाद उनकी जगह एसके सिंघल (SK Singhal) बिहार के नए डीजीपी बनाए गए हैं.