पटना: पटना में शुक्रवार शाम से ही भारी बारिश के कारण बिहार विधानसभा परिसर और उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के आवास समेत कई इलाकों में जलजमाव हो गया. मौसम विभाग के मुताबिक पटना में शुक्रवार से 145 मिलीमीटर बारिश हुई है जो कि एक दशक में सबसे अधिक है. विभाग ने बताया कि सुबह में गरज के साथ बारिश हो रही थी, पटना या आसपास के इलाकों में वज्रपात से किसी की मौत की सूचना नहीं है.Also Read - बिहार के प्रोफेसर की ईमानदारी पर फिदा हो जाएंगे आप, पढ़ाने को नहीं मिले छात्र तो सैलरी में मिले 24 लाख भी लौटा दिए

सुबह नौ बजे तक बारिश रूक गयी लेकिन तब तक घुटनों तक जलजमाव हो गया और श्रीकृष्णपुरी तथा पटेल नगर समेत शहर के ज्यादातर इलाकों में बारिश से जलजमाव हो गया. विधानसभा भवन के चारों ओर पानी ही पानी दिख रहा था और कुछ दूरी पर स्थित उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के आधिकारिक बंगले का भी यही हाल था. Also Read - Weather Update: देश के इन हिस्सों में आज भारी बारिश का अलर्ट, जानें मौसम विभाग का ताजा अपडेट

हालांकि, पटना नगर निगम के अधिकारियों ने दावा किया कि अधिकतर मुख्य सड़कों से पंप के जरिए दोपहर तक पानी निकाल दिया गया लेकिन निचले इलाकों में जलजमाव की समस्या बनी हुई है. स्थानीय न्यूज चैनलों में कुछ फुटेज दिखाए गए जिसमें लोग ‘अक्टूबर 2019’ दोहराने की आशंका व्यक्त कर रहे थे जब जलमग्न सड़कों पर नौकाएं उतारी गयी थी और वायु सेना के हेलीकॉप्टर से लोगों तक जरूरी सामग्री पहुंचायी गयी थी. Also Read - पटना में राबड़ी आवास की सीढ़ियां चढ़ते समय गिरे लालू यादव, कंधे की हड्डी में फ्रैक्चर; प्लास्टर चढ़ाया गया