सासाराम: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा मंगलवार को 10वीं कक्षा की परीक्षा के परिणाम घोषित होते ही रोहतास जिले के नटवार कला गांव में खुशी का माहौल बन गया. गांव के लोग प्रसन्न होकर कामयाब छात्र हिमांशु राज को बधाई देने लगे. हिमांशु 10वीं की परीक्षा में सर्वोच्च अंक लाकर राज्य का टॉपर बना है. दिनारा प्रखंड के तेनुअज पंचायत के नटवार कला गांव के रहने वाले हिमांशु राज के पिता सुभाष सिंह एक साधारण किसान हैं और सब्जी उपजाकर बेचते हैं व मां अंजू देवी सामान्य गृहणी हैं. Also Read - Coronavirus in Bihar Update: बिहार में मरीजों की संख्या पहुंची 12 हजार के पार, कुल 97 लोगों की मौत

सब्जी बेचकर अपने परिवार का भरण-पोषण करने वाले सुभाष को आज खुशी का ठिकाना नहीं है. उन्हें इस बात का गर्व है कि एक साधारण किसान परिवार के बच्चे ने प्रदेश में टॉप किया है. Also Read - राजग बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व मे ही लेड़ेगी : नित्यानंद

बिहार बोर्ड की परीक्षा में हिमांशु की इस सफलता से उसके गांव के लोग भी बेहद खुश हैं. राज्य में 481 अंक लाकर टॉपर रहे छात्र हिमांशु ने इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और कठिन मेहनत को देते हुए कहा, “मुझे पूरा भरोसा था कि टॉप 10 में जगह बना लूंगा, लेकिन यह विश्वास नहीं था कि बिहार टॉपर बन जाऊंगा.” Also Read - बिहार में एक बार फिर आकाशीय बिजली ने मचाई तबाही, 20 लोगों की मौत, सरकार देगी मुआवजा

आगे की पढ़ाई के बारे में पूछे जाने पर उसने कहा, “मैं आगे चलकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता हूं.” हिमांशु के पिता ने कहा कि बेटे के परिक्षा परिणाम ने जिंदगी की सबसे बड़ी खुशी दे दी है. उन्होंने कहा कि काफी कष्ट झेलकर हिमांशु को पढ़ाया. क्षमता के मुताबिक गांव के ही स्कूल में हिमांशु का नामांकन करा दिया था, लेकिन आज बेटे ने नाम ऊंचा कर दिया.