औरंगाबाद: बिहार के औरंगाबाद जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र में शनिवार को प्रेमी युगल की चाकू से वारकर हत्या कर दी गई. इसके बाद आरोपी परिवार के सदस्‍यों ने प्रेमी और प्रेमिका के शव को चिता में जला रहे थे, तभी पुलिस पहुंच गई और अधजले शव बरामद कर लिए. Also Read - Bihar Special Train List/ Indian Railway: बिहार के लिए आज से शुरू होंगी 20 से ज्यादा नई स्पेशल ट्रेन, जानें आने-जानें की टाइमिंग

कपसिया गांव के रहने वाले 19 साल के लड़के नीरज कुमार का पड़ोस की 18 साल की लड़की अमृता कुमारी से पिछले दो सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था. लड़की सुबह जब अपने प्रेमी नीरज के घर चली गई तो जब अमृता के परिजनों उसे लाने के लिए आए, लेकिन अमृता ने अपने घर जाने से इनकार कर दिया. इसके बाद अमृता के परिजन क्रोधित हो गए. Also Read - बिहार चुनाव! 14,000 करोड़ रुपये की लागत वाली परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे पीएम मोदी

अमृता के भाई ने अपनी बहन व उसके प्रेमी नीरज कुमार की हत्या चाकू से हत्‍या कर दी. इसके बाद दोनों के परिजन ने शवों को चिता में जला रहे थे, तभी पुलिस तत्काल श्मशान घाट पहुंच गई और चिता की आग को बुझाकर अधजले दोनों शवों को बरामद कर लिया. Also Read - Bihar Assembly Elections 2020: बिहार चुनाव में कैसे वोट डालेंगे कोरोना के मरीज? निर्वाचन आयोग का बड़ा फैसला

इस मामले में प्रेमिका के भाई सहित अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया है.

पुलिस के एक अधिकारी ने मुताबिक, कपसिया गांव के रहने वाले नीरज कुमार (19) का पड़ोस में रहने वाली अमृता कुमारी (18) से पिछले दो सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था. सुबह अमृता कुमारी अपने प्रेमी नीरज के घर चली गई. इसकी जानकारी जब अमृता के परिजनों को हुई तो सभी नीरज कुमार के घर पर उसे लाने के लिए गए, लेकिन अमृता ने अपने घर जाने से इनकार कर दिया. इसके बाद अमृता के परिजन आक्रोशित हो गए. आरोप है कि अमृता के भाई ने अपनी बहन व उसके प्रेमी नीरज कुमार की हत्या चाकू से वारकर कर दी.

मुफस्सिल थाना के प्रभारी सुजीत कुमार ने आईएएनएस को बताया कि हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों परिजन शव के अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट ले गए, लेकिन किसी तरह इसकी सूचना पुलिस को हो गई. पुलिस ने तत्काल श्मशान घाट पहुंचकर चिता को बुझाकर अधजले दोनों शवों को बरामद कर लिया. शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया है.

कुमार ने बताया कि अमृता औरंगाबाद में पढ़ती थी, जबकि नीरज गुजरात के सुरत में रहकर काम करता था. नीरज कुछ ही दिन पहले अपने गांव लौटा था. थाना प्रभारी ने बताया कि इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पुलिस सभी कोणों से जांच कर रही है.