सिंगापुर/पटना/अहमदाबाद/गुवाहाटी. एशिया के टॉप मास कम्युनिकेशन ट्रेनिंग संस्थान आईआईएमसी (IIMC) के एलुम्नाई एसोसिएशन के सालाना मीट कनेक्शन्स का आयोजन सिंगापुर, पटना, अहमदाबाद और गुवाहाटी में किया गया. 17 फरवरी को दिल्ली से शुरू हुआ कनेक्शन्स मीट का सिलसिला लगातार जारी है. 13 अप्रैल को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में इसके समापन तक देश-विदेश के कुल 21 शहरों में एलुम्नाई मीट का आयोजन होगा. दिल्ली के अलावा अब तक मुंबई, ढेंकनाल, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, लखनऊ, रायपुर और जयपुर में मीट का आयोजन हो चुका है. अगले कुछ दिनों में दुबई, भोपाल, बेंगलुरू, रांची, आईजॉल, कोलकाता, हैदराबाद और ढाका में मीट का आयोजन होना है.

आईआईएमसी एलुम्नाई एसोसिएशन (ईमका) के सिंगापुर चैप्टर के कनेक्शन्स मीट की अध्यक्षता चैप्टर अध्यक्ष जफर अंजुम ने की और संचालन महासचिव सौरभ चतुर्वेदी ने किया. मीट में कोषाध्यक्ष अराधना श्रीवास्तव के अलावा सीनियर एलुम्नाई अंजना झा, गौरव रघुवंशी, समीर महेंद्रू, अजय मोदी, पांचाली ठाकुर, दलविंदर कौर, कावेरी घोष समेत अन्य लोग शामिल हुए. सिंगापुर में लगातार दूसरे साल मीट के आयोजन के लिए लोगों ने एसोसिएशन को साधुवाद दिया और भरोसा जताया कि ईमका के नेटवर्क में और लोग जुड़ेंगे.

ईमका के गुजरात चैप्टर का मीट अहमदाबाद में आयोजित हुआ, जिसकी अध्यक्षता चैप्टर के अध्यक्ष प्रदीप मल्लिक ने की और संचालन महासचिव अरविंद कुमार ने किया. मीट में सेंट्रल कमिटी मेंबर नितिन कुमार, आंध्र प्रदेश तेलंगाना चैप्टर के महासचिव शांतिस्वरूप सामंतरे के अलावा सुसिम मोहंती, धीरज वशिष्ठ, पीयूष मिश्रा समेत अन्य एलुम्नाई शामिल हुए. इसी तरह नॉर्थ ईस्ट चैप्टर का मीट गुवाहाटी में आयोजित हुआ जिसकी अध्यक्षता चैप्टर के अध्यक्ष समुद्रगुप्त कश्यप ने की और संचालन वरिष्ठ एलुम्नाई मनोज खंडेलवाल ने किया. मीट में पश्चिम बंगाल चैप्टर के अध्यक्ष सुबीर भौमिक के अलावा मानस शर्मा, संगठन सचिव रीतेश वर्मा, छत्तीसगढ़ चैप्टर के संगठन सचिव मृगेंद्र पांडेय, गौरव चौधरी आदि शामिल हुए.

पटना में बिहार चैप्टर के मीट की अध्यक्षता चैप्टर अध्यक्ष भोलानाथ ने की और संचालन महासचिव साकिब खान ने किया. चैप्टर को वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद मुकेश, केके लाल, नितिन प्रधान, सुविज्ञ दुबे, समी अहमद, निखिल कुमार, इर्शादुल हक, व्यालोक पाठक, रजनीश, सेंट्रल कमिटी मेंबर गौरव दीक्षित, अफजल खान आदि ने संबोधित किया. मीट में बिहार चैप्टर की तरफ से देश-समाज के मसलों पर संवाद सेमिनार आयोजित करने का निर्णय लिया गया और चैप्टर कमिटी को इस बात के लिए अधिकृत किया गया कि वो इसकी रूपरेखा बनाए.