नई दिल्ली. राष्ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी स्थाई रूप से प्रधानमंत्री पद पर बैठने के लिए नहीं आए हैं. दुनिया में जो आया है उसे एक दिन जाना होता है. पीएम मोदी भी जाएंगे. तेजस्वी यादव जी मीडिया समूह के खास कार्यक्रम ‘इंडिया का डीएनए 2019’ कॉन्क्लेव में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि 2019 में पूरा विपक्ष, भाजपा के खिलाफ एकजुट होगा. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह यूपी में सपा नेता अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती भाजपा के खिलाफ एक साथ आए, उसी तरह आगामी लोकसभा चुनाव में सभी विपक्षी पार्टियां एकजुट होकर चुनाव लड़ेंगी. मोदी जी परमानेंट नहीं बैठे हैं गद्दी पर, जो आया है उसे एक दिन जाना है.’ बता दें कि ‘इंडिया का डीएनए 2019’ कॉन्क्लेव में आज दिनभर देश के दिग्गज नेता और विभिन्न क्षेत्रों की हस्तियां जनता के साथ अपने विचार साझा करेंगी. वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव की आहट के बीच सत्ताधारी भाजपा के नेताओं और सरकार के नुमाइंदों के लिए ये मंच सरकार की उपलब्धियों को जनता के सामने रखने का अवसर होगा.

2019 की कितनी तैयारी? अखिलेश-तेजस्वी के बेबाक जवाब

मोदी को हराना नहीं, देश बचाना है लक्ष्य
राजद नेता तेजस्वी यादव ने जी न्यूज के कॉन्क्लेव में भाजपा के खिलाफ विपक्षी एकजुटता और देश की वर्तमान स्थिति संबंधी सवालों के भी जवाब दिए. उन्होंने कहा, ‘आज देश की हालत चिंताजनक हो गई है. लोगों में डर का माहौल है. इसकी कसूरवार भाजपा है. भाजपा ने गांधी और अंबेडकर के देश में गोडसे और गोलवलकर की नीति अपनाने की कोशिश की. इसलिए हर तरफ अराजकता का माहौल बना हुआ है.’ भाजपा के खिलाफ सभी दलों की एकजुटता पर तेजस्वी यादव ने कहा, ‘देश की हर पार्टी भाजपा से डर कर एकजुट नहीं हुई है, बल्कि देश को भाजपा सरकार की गलत नीतियों से बचाने के लिए एकजुट हुई है. हम भाजपा को हराने के लिए नहीं, बल्कि देश बचाने के लिए एकजुट हुए हैं.’ उन्होंने कहा कि भाजपा ने 2014 में शासन में आने से पहले देशवासियों से कई वादे किए थे, लेकिन पिछले 4 साल के दौरान इस सरकार ने कोई भी वादा पूरा नहीं किया. यही वजह है कि आज देश की जनता बदलाव चाहती है. इसकी झलक आने वाले लोकसभा चुनावों के दौरान दिखेगी.

सभी विपक्षी पार्टियों से साथ आने की अपील
जी न्यूज के कॉन्क्लेव में विभिन्न सवालों के जवाब देते हुए राजद नेता तेजस्वी यादव ने सभी विपक्षी पार्टियों से देशहित में एकजुट होने की अपील की. उन्होंने बिहार, यूपी और झारखंड का उदाहरण देते हुए कहा कि इन तीनों राज्यों में भाजपा के खिलाफ माहौल बना है. इसी माहौल के कारण 2019 के चुनाव में भाजपा की हार होगी. तेजस्वी ने कहा, ‘जितनी भी विपक्षी पार्टियां हैं, अपने-अपने बारे में छोड़कर देशहित के बारे में सोचना शुरू करें. जिस तरह से अखिलेश यादव और मायावती उत्तर प्रदेश में एक होकर चुनाव लड़े हैं, वह एक उदाहरण है. यूपी में 80 सीटें हैं, बिहार में 40 सीटें हैं, झारखंड में 14 सीटें हैं. अगर हम तीन राज्यों में एक साथ लड़े तो हालात बदल देंगे.’