नई दिल्ली: नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने आज सातवीं बार सीएम पद की शपथ ली है. इस बार बिहार का मंत्रिमंडल बदला हुआ है. सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) को फिर से डिप्टी सीएम नहीं बनाया गया है. तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को डिप्टी सीएम बनाया गया है. Also Read - तेजस्वी ने नीतीश पर की व्यक्तिगत टिप्पणी, सीएम बोले- राजनीति में आगे बढ़ना है तो ठीक से व्यवहार करना सीख लो

सुशील कुमार मोदी ने डिप्टी सीएम नहीं बनाये जाने पर एक दिन पहले ही कहा था कि आरएसएस और बीजेपी ने उन्हें 40 सालों में काफी कुछ दिया है. कम से कम कार्यकर्ता होने का पद उनसे कोई नहीं छीन सकता है. Also Read - West Bengal Latest News: 50 से ज्‍यादा TMC नेता बीजेपी में होंगे शामिल, भाजपा सांसद का दावा

इसे लेकर अब नीतीश कुमार ने भी बड़ी बात कही है. आज ही सीएम पद की शपथ लेने वाले नीतीश कुमार ने सवाल के जवाब में कहा कि सुशील मोदी को डिप्टी सीएम नहीं बनाया गया, ये बीजेपी का फैसला था. सुशील मोदी को बीजेपी से पूछना चाहिए. नीतीश कुमार ने कहा कि हम सुशील मोदी को मिस करेंगे. बता दें कि अब तक नीतीश कुमार के साथ सुशील मोदी को डिप्टी डिप्टी सीएम थे. नीतीश कुमार तो सीएम बन गये, लेकिन सुशील मोदी को कुर्सी नहीं मिली. Also Read - बिहार: बीजेपी ने सुशील कुमार मोदी को बनाया राज्यसभा उम्मीदवार, राम विलास पासवान के निधन से खाली हुई थी सीट

नीतीश कुमार लगातार चौथी बार और कुल सातवीं बार वह बिहार के सीएम बने हैं. समारोह में गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और बीजेपी के बिहार चुनाव के लिए प्रभारी रहे देवेंद्र फडनवीस भी मौजूद रहे. ये सातवाँ मौक़ा है जब वह बिहार की सत्ता संभाल रहे हैं. इसके साथ ही बीजेपी कोटे से इस बार दो डिप्टी सीएम ने भी शपथ ली है. बीजेपी के तार किशोर प्रसाद और रेणु देवी को डिप्टी सीएम बनाया गया है.

इसके साथ ही बीजेपी के मंगल पाण्डेय, जीवेश पाण्डेय, रामप्रीत पासवान, रामसूरत राय और जेडीयू के विजय चौधरी, विजेंद्र चौधरी, अशोक चौधरी, शीला कुमारी, मेवा लाल चौधरी मंत्री बने हैं. इसके साथ वीआइपी के मुकेश सहनी, हम के संतोष के सुमन भी मंत्रिमंडल का हिस्सा बने हैं.