पटना: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में आंतरिक कलह हो गई. चिराग पासवान (Chirag Paswan) को अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है. सियासी उफान के बाद सत्ताधारी पार्टी जेडीयू (JDU) ने दावा किया है कि अब कांग्रेस में टूट हो सकती है. कांग्रेस के कई विधायक भी उनके संपर्क में हैं और जल्द ही टूट हो सकती है. दिल्ली से पटना लौटे जेडीयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने यहां लोजपा की टूट में जेडीयू के किसी प्रकार की भूमिका होने से इनकार करते हुए कहा कि पारिवारिक विवाद के कारण लोजपा टूटी है. उन्होंने हालांकि कांग्रेस की टूट की संभावना जताई है. उन्होंने कहा, कांग्रेस के कई विधायक उनके संपर्क में हैं और जेडीयू में आ सकते हैं.Also Read - लालू यादव सपा संस्‍थापक मुलाय‍म सिंह से मिले, अखिलेश यादव भी रहे मौजूद

जेडीयू नेता ने यह भी कहा कि कांग्रेस (Congress) डूबती नैया है और उसमें कोई सवार होना नहीं चाहेगा. उल्लेखनीय है कि पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में NDA में शामिल जेडीयू NDA में दूसरे नंबर की पार्टी बन गई है. राजग में भाजपा (BJP) सबसे बड़ी पार्टी है. चुनाव परिणाम के बाद से ही जेडीयू अपने कुनबे को बड़ा करने में जुटी है. Also Read - Maharashtra में बिहार के मंत्री के बोल- बिहार में काम करना हमारे लिए बहुत चुनौतीपूर्ण...बहुत कुछ सहना पड़ता है

विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में लोजपा और बसपा (BSP) ने एक-एक सीट पर जीत दर्ज की थी और दोनों दलों के विधायक जदयू में शामिल हो चुके हैं. ऐसे में माना जा रहा है जेडीयू खुद को मजबूत करने के लिए कांग्रेस के विधायकों को भी अपने पाले में कर सकती है. वैसे, कांग्रेस में टूट की खबर चुनाव के बाद से ही सामने आती रही है, लेकिन कांग्रेस ने अब तक अपने विधायकों को संभालकर रखा है. Also Read - नीतीश कुमार ने कहा- जाति आधारित जनगणना के मुद्दे पर पीएम मोदी से मिलूंगा