पटना. गुजरात में बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को भगाए जाने को लेकर अब बिहार में भी सियासत गर्म हो गई है. बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) ने सोमवार को कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को एक खुला पत्र लिखकर इस मामले के लिए विधायक अल्पेश ठाकुर को जिम्मेदार बताते हुए पूछा है कि कांग्रेसियों को बिहार के लोगों से इतनी नफरत क्यों है. जदयू के प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष को लिखे पत्र में आरोप लगाया है एक ओर आप विधायक अल्पेश ठाकुर को बिहार कांग्रेस के सह प्रभारी निुयक्त करते हैं और दूसरी तरफ उनकी सेना ‘गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना’ बिहार के लोगों को गुजरात से निकाल रही है. इधर, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस मामले पर कहा है कि वे गुजरात के सीएम विजय रूपाणी से इस मामले में संपर्क बनाए हुए हैं.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज इस मुद्दे पर मीडिया के साथ बातचीत में कहा, ‘इस घटना के लिए जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ राज्य सरकार बिना किसी पूर्वाग्रह के सख्त कार्रवाई करेगी. गुजरात की स्थिति पर हम लोग नजर रखे हुए हैं. इस मामले पर गुजरात के सीएम विजय रूपाणी से मेरी बात हुई है. घटना में शामिल किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा.’

विधान पार्षद नीरज कुमार ने अपने पत्र में कहा कि आज गुजरात में जो विकास दिख रहा है, वह बिहारी ही नहीं पूरे देश के लोगों ने खून-पसीने से सींच कर किया है. गुजरात ही क्यों देश का कोई भी क्षेत्र एक-दूसरे पर आश्रित है. पत्र में नीरज ने कांग्रेस के बहाने राजद पर भी निशाना साधते हुए कहा कि आज कांग्रेस को एक ऐसे दल से गठबंधन करने को मजबूर होना पड़ रहा है, जिसके अध्यक्ष सजायाफ्ता हैं, बल्कि उनकी विरासत संभालने वाले उनके बेटे भी भ्रष्टाचार के आरोपी हैं. उन्होंने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कि विधायक अल्पेश लगातार उत्तर भारतीयों के खिलाफ जहर उगल रहे हैं, रैलियां कर रहे हैं, लेकिन उनके खिलाफ कांग्रेस अनुशासनात्मक कार्रवाई तक नहीं कर पा रही है.

जदयू नेता ने पत्र में आगे कहा, ‘ठाकुर जैसे संकीर्ण मानसिकता वाले व्यक्ति को बिहार में कांग्रेस पार्टी का सहप्रभारी बनाकर बिहारियों के प्रति घृणा का एहसास कराया गया है.’ उल्लेखनीय है कि गुजरात में 14 साल की बच्ची से दुष्कर्म की घटना के बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है जिस कारण बिहार के लोग गुजरात से पलायन कर रहे हैं. इसको लेकर कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के नेता संजय निरूपम ने पीएम नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोला है. निरूपम ने अपने एक बयान में कहा कि पीएम मोदी के गृह राज्य से जिस तरह बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को भगाया जा रहा है, वह दुखद है. पीएम मोदी को यह बात याद रखनी चाहिए कि वे उत्तर प्रदेश के वाराणसी से सांसद हैं और उन्हें भी वहां जाना पड़ेगा.

(इनपुट – एजेंसी)